अपना कर्तव्य निभाएं। अपनी जान बचाए।

0
117

अत्यंत दुख के साथ यह मैसेज लिख रहा हूँ ।सद्गुरु से प्रार्थना करता हूं विनती करता हूं कि ऐसा किसी के साथ ना हो🙏🙏
यदि आपका परिवारजन या बेटा बेटी कोरोना से पॉजिटिव आता है तो उसे प्रशासन उठा कर ले जाएगा। उसे अलग थलग कर देगा। उससे आपको या किसी को भी मिलने नहीं दिया जाएगा। आप उसकी देखभाल करने का हक भी खो देंगे। अगर वो ठीक हो गया तो कोई बात नहीं लेकिन यदि ठीक नहीं हुआ तो आप उसे जीवन में कभी देख नहीं पाएंगे। यहां तक कि आपको उसके अंतिम संस्कार का मौका भी नहीं दिया जाएगा। आपको सिर्फ सूचित कर दिया जाएगा कि आपका अपना मर चुका है। प्रशासन खुद उसका क्रियाकर्म कर के आपको सूचित कर देगा। क्या आप चाहते हैं आपके अपनों के साथ ऐसा हो। आपके बेटे बेटी मा बाप या पति पत्नी या मित्र के साथ ऐसा हो। यदि हां तो फिर खुल कर भीड़ जमाएं एवं सरकार के सराहनीय एवं मजबूत क़दमों की धज्जियां बीखेरिए जैसे की 22 तारीख को शाम मे कुछ मूर्खों ने की। और यदि आप ऐसा नहीं चाहते तो भीड़ में ना जाएं सरकार के निर्देशों का पालन करें। अपने एवं अपने परिवारजनों के बहुमूल्य जीवन की रक्षा खुद करें।
अपना कर्तव्य निभाएं। अपनी जान बचाए।
परमात्मा से प्रार्थना है कि आप सपरिवार…
घर पर रहें!
जीवित रहें!!
हैंैैैंै