उगाही को लेकर आशाओं ने किया बैठक,भ्रष्ट लेखापालो के विरोध में होगा आंदोलन

0
141

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

बेतिया :- आशाओं के बकाया भुगतान के लिए उगाही करना बंद करें लेखापाल और बीसीएम नहीं तो होगा आंदोलन उक्त बातें मनोज शर्मा जिला संघ के संरक्षण संरक्षक ने बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ की जिला इकाई की ओर से बेतिया बड़ा रामना आशाओं को संबोधित करते हुए कही।
आगे श्री शर्मा ने कहा कि ट्रेड यूनियन भारत राष्ट्रव्यापी हड़ताल राजनीतिक पार्टियों में आंदोलन शहर में चल रही है जिसके चलते आशाओ ने 12 सूत्री मांगों को लेकर विभिन्न पीएचसी से आये आशा बहनों ने एन आर सी ,एन पी आर,सी ए ए का समर्थन की एवं अपने संघ की तरफ से विभिन्न मांगों को लेकर आशाओं ने उग्र आंदोलन की तैयारी करने की चर्चा हुई।
साथ ही आशा के बकाया का प्रोत्साहन राशि का अविलंब भुगतान ,बीसीजी में अवैध वसूली, ,जन्म प्रमाण पत्र में एफिडेविट के नाम पर अवैध वसूली, दलाली एवं व्यक्तियों दोहन समाप्त करें ,इमरजेंसी में सीरियस मरीज को रेफर मरीज करने के नाम पर मांगी जा रही रिश्वतखोरी एवं सरकार द्वारा चलाई विभिन्न कार्यक्रमों का रिपोर्ट पीएचसी में प्रत्येक माह का रिपोर्ट फैशलेटर द्वारा जमा हुई है।
मगर जिला के एकाउंटेंट आने के नाम पर बीसीएम, मैनेजर अकाउंटेंट द्वारा बड़े पैमाने पर रिश्वत लेने के बाद ही पेमेंट दिया जाता है। प्रत्येक पीएचससी लंबित आशा का बकाया राशि है । आग श्री शर्मा ने कहा कि जिला पदाधिकारी से भी संघ ने अपील किया कि स्वास्थ्य विभाग की स्वास्थ्य समिति के स्वास्थ्य कर्मी पद पर बैठे मनमानी करते हैंअलग अलग-अलग बिचौलियों ,रखकर रिश्वत की उगाही करते हैं ।उनके काम में अनेक तरह का बाधा लगाकर आशा को प्रताड़ित करते रहते हैं।
पोषक क्षेत्र में बार बार दौरा कर मजबूर करते हैं इस तरह से हमें गुजारिश है कि सरकार द्वारा प्रत्येक योजना का भुगतान प्रत्येक माह में भुगतान किया जाए ।जैसे ही सर्वे रजिस्टर में केंद्र सरकार के द्वारा घोषणा पत्र बिहार सरकार का एग्रीमेंट इस तरह से सारी बकाया राशि दिसंबर 19 तक तत्काल भुगतान करें ।अन्यथा भ्रष्ट अधिकारी को बड़े पैमाने पर आंदोलन कर आशा अपने वरीय पदाधिकारियों पटना के द्वारा सम्मेलन के माध्यम से चिन्हित कर बड़ी तादाद में आंदोलन करेंगे ।
साथ भ्रष्टाचार जुड़े तमाम पदाधिकारी को भी भारी पड़ेगा ।इस बैठक में आशा गिरजा देवी ,शिव पूजन ,राजकुमार ,पटेल सुरेंद्र ठाकुर राजेंद्र श्रीवास्तव बैजनाथ राम, विपिन शाह ,नंदकिशोर ,अंजनी द्विवेदी, सुषमा देवी ,उर्मिला देवी ,गीता देवी, रेखा देवी ,शकुंतला देवी ,प्रमिला देवी, मुन्नी देवी ,उषा देवी ,शांति देवी, सुगंधी देवी ,सुभाषिनी गुलाबो देवी ,गीता देवी, मीना देवी ,सीता राम ,अनामिका इत्यादि मौजूद रहे।