कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने पर कई गांवों को किया गया सील, अनहोनी के डर से ग्रामीण पढ़ रहे रामचरित्र मानस

0
247

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

सिवान: कोरोना के पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद आसपास के गांवों को संक्रमण के डर से सील कर दिया गया है। जिसके कारण ग्रामीणों में डर का माहौल बना है। इस बीच किसी अनहोनी से बचने के लिए ग्रामीण गीता और रामचरित्र मानस का पाठ कर रहे हैं। इस पाठ से उम्मीद है कि इससे भगवान रक्षा करेंगे।बताया जा रहा है कि नौतन प्रखंड के अंगौता पंचायत के अंगौता गांव में कोरोना से पीड़ित मरीज मिला। जिसके बाद आसपास के गांवों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। गांव की सड़क पर पुलिस तैनात हैं। जिससे कारण लोग अपने घरों में हैं।
स्वास्थ्य विभाग पर भड़के ग्रामीण
ग्रामीणों की शिकायत है कि कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर नहीं है। गांव को सैनिटाइज नहीं किया गया और नहीं दवा का छिड़काव किया गया।जिन गांवों को सील किया गया है। उस गांव के लोगों को चौबीस घंटे में मात्र दो घंटे की छुट दी जा रही है। छुट मिलने के बाद वह अपने जरूरत की समान लेने के लिए निकल रहे है।
मेडिकल टीम का दावा, हर पंचायत में टीम कर रही काम
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने कहा कि अंगौता गांव में मरीज मिलने के बाद से हसुआ पंचायत को सील कर दिया गया है।पंचायत में मेडिकल विभाग की टीम काम कर रही है।ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है। ग्रामीण किसी तरह के अफवाह पर ध्यान नहीं दे।