-नागपुर मे मंदिर के महंत पर जानलेवा हमला-

0
350

–नागपुर मे मंदिर के महंत पर जानलेवा हमला-

संत सुरक्षा मिशन के प्रदेशाध्यक्ष महामंडलेश्वर आचार्य चंद्रप्रकाश महाराज ने संत सुरक्षा मिशन के हवाले से खबर दी है कि गोधनी रोड जय दुर्गा नगर स्थित वैष्णव सेवा आश्रम मंदिर ट्रस्ट के महंत स्वामी श्री धराचार्यजी महाराज (वरीष्ठ महामंत्री संत सुरक्षा मिशन नागपुर) पर कुछ लोगो द्वारा जानलेवा हमला किया गया है।

कुछ लोगो ने पूजा के नाम पर मंदिर मे प्रवेश किया अौर महंत श्री धराचार्य जी को दाढी पकड कर शारीरीक अौर मानसिक रुप से प्रताडित कर मंदिर मे आधी रात को उत्पात मचा कर दंगा किया गया।

इस आशय की एक रिपोर्ट महंतश्री ने सहायक पुलिस कमीश्नर नागपुर को भेजी है।

इसी आश्रम मे संत सुरक्षा मिशन का क्षेत्रिय कार्यालय भी स्थित है।

संत सुरक्षा मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी रामदेवजी महाराज ने कहा है कि संत सुरक्षा मिशन संस्था साधु-संतो की सामाजिक सुरक्षा हेतु कृतसंकल्प है अौर राष्ट्रीय स्तर पर ऐसे कुकृत्य की भृत्सना करता है।

हमारा प्रशासन से निवेदन है कि वह मठ मंदिरो को सुरक्षा प्रदान करने हेतु कृपया उचित कदम उठाए।

इस विषय पर शिघ्र ही संस्था के प्रतिनिधी मंडल की ओर से प्रशासन को एक ज्ञापन सौपा जाएगा।

संत सुरक्षा मिशन के प्रदेशाध्यक्ष महामंडलेश्वर आचार्य चंद्रप्रकाश महाराज ने संत सुरक्षा मिशन के हवाले से खबर दी है कि गोधनी रोड जय दुर्गा नगर स्थित वैष्णव सेवा आश्रम मंदिर ट्रस्ट के महंत स्वामी श्री धराचार्यजी महाराज (वरीष्ठ महामंत्री संत सुरक्षा मिशन नागपुर) पर कुछ लोगो द्वारा जानलेवा हमला किया गया है।

कुछ लोगो ने पूजा के नाम पर मंदिर मे प्रवेश किया अौर महंत श्री धराचार्य जी को दाढी पकड कर शारीरीक अौर मानसिक रुप से प्रताडित कर मंदिर मे आधी रात को उत्पात मचा कर दंगा किया गया।

इस आशय की एक रिपोर्ट महंतश्री ने सहायक पुलिस कमीश्नर नागपुर को भेजी है।

इसी आश्रम मे संत सुरक्षा मिशन का क्षेत्रिय कार्यालय भी स्थित है।

संत सुरक्षा मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी रामदेवजी महाराज ने कहा है कि संत सुरक्षा मिशन संस्था साधु-संतो की सामाजिक सुरक्षा हेतु कृतसंकल्प है अौर राष्ट्रीय स्तर पर ऐसे कुकृत्य की भृत्सना करता है।

हमारा प्रशासन से निवेदन है कि वह मठ मंदिरो को सुरक्षा प्रदान करने हेतु कृपया उचित कदम उठाए।

इस विषय पर शिघ्र ही संस्था के प्रतिनिधी मंडल की ओर से प्रशासन को एक ज्ञापन सौपा जाएगा।