नालंदा में पुलिस के सामने जज की पत्नी को पीटा, सुरक्षा की लगाई गुहार

0
385

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

दूसरों को न्याय देने वाले न्यायाधीश की मौत के बाद उनकी पत्नी नालंदा पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगा रही हैं।पत्नी जब पति के अंतिम संस्कार करने गांव पहुंची तो ससुराल के लोगों ने पिटाई कर दी।यह घटना हिलसा के मदारपुर गांव की है।
पुलिस के सामने हुई पिटाई
समस्तीपुर के रोसड़ा कोर्ट के न्यायाधीश राजीव कुमार की तबीयत बिगड़ने से 14 फरवरी को मौत हो गई थी। न्यायाधीश के पार्थिव शरीर को दाह संस्कार के लिए उनके पैतृक गांव हिलसा स्थित मदारपुर गांव लाया गया।मृतक की पत्नी ऐश्वर्या राज लक्ष्मी ने आरोपों में बताया कि जब वह पति के अंतिम संस्कार करने पहुंची तो देवर-देवरानी ने गाली-गलौज करते हुए उनकी पिटाई कर दी। पुलिस की मौजूदगी में उनके साथ बदसलूकी की गई।
देवर लेकर भागने लगा बच्ची को
महिला ने आरोप लगाया है कि उनकी गोद से चार साल की बेटी को छीनकर देवर भागने लगा। जिसे सुरक्षा बलों ने पकड़ा। महिला दाह संस्कार के लिए करीब डेढ़ लाख रुपया ले गई थी, जिसे छीन लिया गया। न्यायाधीश की पत्नी ने बताया कि उनके ससुराल के लोग बेटी की हत्या करना चाहते है। वह नालंदा पुलिस से सुरक्षा और छीने गए रुपए वापस दिलाने की गुहार लगा रही हैं।