पटना में लॉकडाउन का मजाक बना रहे धंधेबाज

0
301

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

कोरोना महामारी के कारण देश में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है।इस दौरान कई लोग 2 वक्त की रोटी भी मुश्किल से जुटा पा रहे हैं लेकिन पटना का ग्राफ देखने से यह पता चलता है कि शराबबंदी होने के बाद भी लॉकडाउन में भी शराब की होम डिलीवरी हो रही है। धंधेबाज शराबबंदी और लॉकडाउन का मजाक उड़ाते हुए  पुलिस के बीच से बेखौफ होकर शराब की होम डिलीवरी कर रहे हैं और इसकी अधिक कीमत भी वसूल रहे हैं।

हाल में शराब के साथ पकड़े गए धंधेबाजों ने इसकी पोल खोलकर रख दी है। बिहार में लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने भारी मात्रा में अंग्रेजी व देशी शराब पकड़ी है, इसके साथ ही शराब तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया है।कदम कुआं पुलिस ने शनिवार को छापेमारी कर 32 लीटर देसी शराब बरामद किए हैं, वही शराब तस्कर को भी गिरफ्तार किया गया है

लॉकडाउन में कहां-कहां पकड़ी गई शराब
11 अप्रैल- कदमकुआं पुलिस ने काजिपुर में 32 लिटर शराब के साथ नाबालिग को पकड़ा।
11 अप्रैल- राजिव नगर पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान कार से 45 बोतल शराब के साथ दो लोग को गिरफ्तार किया।
10 अप्रैल- सचिवालय थाना पुलिस ने आर ब्लॉक के पास से 8 बोतल शराब के साथ शख्स को गिरफ्तार किया।
10 अप्रैल- एसकेपुरी पुलिस ने 8 बोतल शराब के साथ शख्स को गिरफ्तार किया।
8 अप्रैल-एग्जीबिशन रोड से शराब विक्रेता मनीष को पकड़ा जो खाना बांटने के नाम पर शराब बेचने जा रहा था।
7 अप्रैल- गांधी मैदान थाने की पुलिस ने 30 बोतल शराब के साथ आजाद कुमार को गिरफ्तार किया ।
29 मार्च-दीधा थाना इलाके के कुर्जी पुल के गेट नंबर 81 के पास बाइक से शराब की होम डिलीवरी करने जा रहे युवक गिरफ्तार किया गया।