बिहार में डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों को बोनस, कोरोना संकट से मुकाबले के लिए नीतीश सरकार ने दिया इनाम

0
289

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

PATNA : बिहार में कोरोनावायरस से मुकाबले के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को नीतीश सरकार ने बोनस देने का फैसला किया है।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज हाई लेवल मीटिंग के बाद राज्य के सभी चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों को 1 माह के मूल वेतन के बराबर बोनस देने का फैसला किया है। डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को बोनस प्रोत्साहन राशि के तौर पर दी जाएगी।
दरअसल बिहार में कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए बिहार सरकार ने लॉक डाउन कर रखा है। लगातार डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों की सेवाएं ली जा रही हैं। सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को किसी भी हालत में छुट्टी नहीं मिलेगी। लिहाजा उनकी तरफ से किए जा रहे प्रयासों को सरकार ने बोनस देकर सराहना की है।
वहीं कोरोना संकट के बीच नीतीश सरकार ने गरीबों को राहत के लिए बड़ा फैसला किया है। नीतीश सरकार अब राज्य में बीपीएल कार्ड धारियों को मुफ्त में राशन देगी।नीतीश सरकार ने एक बड़े फैसले पर अमल के लिए आदेश जारी कर दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस संकट से पैदा हुई स्थिति को लेकर आज एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक बुलाई थी, जिसमें यह फैसला किया गया है।

नीतीश सरकार ने सभी राशन कार्ड धारी परिवारों को 1 महीने का राशन मुफ्त देने का फैसला किया है। साथ ही साथ सभी प्रकार के पेंशन धारियों को अगले 3 महीने का वेतन अग्रिम तौर पर तत्काल देने का भी बड़ा फैसला किया गया है। यह राशि मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना, दिव्यांग पेंशन विधवा पेंशन और वृद्धावस्था पेंशन के लाभार्थियों को सीधे उनके खाते में भेजी जाएगी।