बिहार में 1164 हड़ताली शिक्षकों पर बड़ी कार्रवाई, अभी और शिक्षकों पर गाज गिराने की तैयारी में सरकार

0
129

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्टः

पटना: बिहार में हड़ताली शिक्षक और सरकार आमने-सामने है। जिसके बाद शिक्षकों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है। अब तक 1168 से अधिक शिक्षकों पर कार्रवाई हो चुकी है। इसमें 464 को अब तक सस्पेंड किया जा चुका है। बाकी बचे शिक्षकों पर कार्रवाई की प्रक्रिया जारी है।
कॉपी नहीं जांच करने वालों पर गिरी गाज
इंटर परीक्षा के उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन में योगदान नहीं देना शिक्षकों को महंगा पड़ा है। जिसके कारण कर्तव्यहीनता और मूल्यांकन कार्य बाधित करने को लेकर शिक्षकों पर कार्रवाई का सिलसिला जारी है। शिक्षा मंत्री और शिक्षा विभाग ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि कॉपी जांच नहीं करने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई होगी। किसी भी कीमत पर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा।

इन जिलों में हुई शिक्षकों पर कार्रवाई
गोपालगंज में 188 शिक्षकों को सस्पेंड किया गया है।बेगूसराय में 178 नियोजित शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया गया।बेगूसराय में ही वित्तरहित 314 शिक्षकों पर एफआइआर का आदेश जारी किया गया है। पटना में सबसे पहले 2 शिक्षकों को सस्पेंड किया गया।70 शिक्षकों पर एफआईआर और निलंबन की कार्रवाई की अनुशंसा की गई है। कैमूर में 122 नियोजित शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया गया है। समस्तीपुर में 30 शिक्षकों को सस्पेंड हुए हैं।250 पर शिक्षकों को कार्रवाई की प्रकिया चल रही है. सीवान में 14 शिक्षकों को सस्पेंड किया जा चुका है।