भक्ति से सराबोर हो रहा है। म

0
318

दोपहर से माँ के चरणों में स्वरक्त अर्पित कर रहे है श्रीनेत वंशीय क्षत्रिय

बांसगांव के ऐतिहासिक दुर्गा मन्दिर पर दुर्गा पूजा उत्सव शुरू

अविवाहित पुरुष एक स्थान व विवाहित पुरुष 9 स्थान से रक्त अर्पित करेंगे।

बांसगांव। उपनगर बांसगांव में स्थित ऐतिहासिक दुर्गा मन्दिर पर शारदीय नवरात्रि के द्वितीया तिथि से शुरू हुआ दुर्गा पूजा का उत्सव जोर पकड़ने लगा है। भोर से ही श्रद्धालुओं का मन्दिर में आने का शुरू हुआ सिलसिला दोपहर तक चल रहा है। इस दौरान देवी दर्शन करने के साथ ही उनकी पूजा आराधना कर श्रद्धालुओं द्वारा घंट घड़ियाल बजाते माता का जयकारा लगाने से पूरा महौल भक्ति से सराबोर हो रहा है।

मन्दिर के पुजारी पण्डित श्रवण कुमार पाण्डेय के अनुसार इस नवरात्रि के नवमी में

सोमवार को दोपहर एक बजे से श्रीनेत वंशीय पुरूष पूर्वजों के काल से चली आ रही बलि प्रथा को जीवंत बनाये रखने के लिए माँ दुर्गा के चरणों में स्वरक्त अर्पित कर माता से आशीर्वाद की लिया।