मासूम बेटी की अस्मत की बोली लगाने पर अपनो के बीच बेआबरू हुए कोतवाल

0
544

यूपी की कौशांबी में पुलिस ने 11 साल के मासूम बच्ची बच्ची की आबरू की कीमत 28 हजार रुपये लगाई है। दो दिन पहले मंझनपुर कोतवाली में पंचायत कर इंस्पेक्टर ने पीड़िता के परिजनों पर सुलह समझौता का दबाव बनाया। जिसके बाद आज पीड़िता की माँ अपनी फरियाद लेकर मंझनपुर तहसील दिवस में पहुंची। और डीएम एसपी के सामने तत्कालीन इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह की गिरेबां पाकर कर जमकर हंगामा किया। पीड़िता की माँ ने डीएम और एसपी को बताया कि उसके मासूम बेटी के साथ पड़ोसी युवक ने रेप किया था। जिस मामले की एफआईआर भी मंझनपुर कोतवाली में दर्ज है। मंझनपुर कोतवाली के तत्कालीन इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह ने दो दिन पहले उसे कोतवाली बुलाया, और आरोपियों से मिलकर उसकी बेटी की आबरू की कीमत 28 हजार रुपये लगाई। जब उसने विरोध किया तो इंस्पेक्टर ने उसके परिवार को फर्जी मुकदमें में जेल भेजने की धमकी दिया।

इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह द्वारा मासूम पीड़िता की आबरू की बोली लगाने के बाद उसकी माँ आज मंझनपुर तहसील दिवस में अपनी फरियाद लेकर पहुंची। पीड़िता की माँ ने डीएम एसपी के सामने तत्कालीन इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह का गिरेबान पकड़कर हांथापाई किया। और अपने बेटी के गुनाहगारों को बचाने के लिए इंसेक्टर पर गंभीर आरोप लगाया। जिसके बाद डीएम एसपी ने पीड़िता को कार्यवाई का भरोसा दिलाते हुए मामला शांत कराया। तहसील दिवस में इंस्पेक्टर के साथ पीड़ित की माँ का हांथापाई का वीडियो सामने आने के बाद अब कोई भी पुलिस का अधिकारी मीडिया के सवालों पर कुछ भी बोलने से साफ मना कर रहे है।