रोसड़ा नगर पंचायत में राजनीति को लेकर हलचल मची हुई है।

0
183

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट।

 

बता दें कि रोसरा नगर पंचायत में उप मुख्य पार्षद को लेकर चर्चा बनी हुई है।
उप पार्षद ने नगर पंचायत कार्यपालक को अपने इस्तीफा  का हार्ड कॉपी को लेकर गए लेकिन नगर पंचायत कार्यपालक ने पेपर को पढ़कर लेने से मना कर दिया । नगर पंचायत के उप मुख्य पार्षद अरुण कुमार ने बताया कि दिनांक 10/12 /2019 को नगर पंचायत कार्यपालक कार्यालय एवं रोसरा नगर पंचायत के मुख्य पार्षद को अपनी इस्तीफा पत्र दीया।
उसी दिन लगभग 2:43: बजे दिन में भारतीय डाक सेवा द्वारा भेजा उसके बाद अगले दिन दिनांक 11 दिसंबर 2019 को मुख्य कार्यपालक द्वारा भारतीय डाक द्वारा जो भेजा गया इस्तीफा पत्र को उन्होंने रिसीव किया । रिसीव करने के बाद
उसी दिन अविश्वास प्रस्ताव लगाया गया जिसका
समय  10:08 बजे दर्शाया गया जिसमें अपराहन एवं पूर्वाहन नहीं दर्शाया गया है। मुख्य पार्षद श्याम बाबू सिंह द्वारा उप मुख्य पार्षद अरुण कुमार का इस्तीफा पत्र को स्वीकृत किया है लेकिन अब तक रोसड़ा नगर पंचायत मे उप मुख्य पार्षद के रूप में किसी भी तरह का ना ही तो मीटिंग किया है नहीं तो नेतृत्व किया गया है।
इससे जाहिर होती नगर पंचायत में कोई और खिचड़ी पक रही होगी अब तक उप मुख्य पार्षद की गठन नहीं हुई है और ना ही किसी भी प्रकार का सूचना दिया गया है नगर पंचायत क्षेत्र में शौचालय एवं इंदिरा आवास जल नल योजना जैसी योजनाओं से लोग वंचित है। क्या सरकार इस पर विचार विमर्श करेगी ?