समस्तीपुर : बाढ़ व सुखाड़ के समय पशुओं को बचाने के उद्देश्य से लगाया गया करोड़ो का मशीन बरसों से हो रहा बर्बाद ।

0
142

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट।

समस्तीपुर जिले के रोसड़ा में बाढ़ और सुखाड़ के समय जानवर के चारे के अभाव को खत्म करने के लिए मशीन लगाई गई थी। लेकिन सिस्टम की लापरवाही के कारण यह मशीन कई वर्ष से बंद पड़ी है।वही बताया जाता है कि जल जमाव होने के कारण यह मशीन अब तक चालू नहीं हो सका है।

बता दें कि कई वर्ष पहले पशुओं के लिए पोस्टिक ब्रिक्स बनाने की एक योजना के अंतर्गत मशीन लगाए गए थे। इस मशीन के माध्यम से सूखे और बाढ़ जैसे मौसम में पशुओं को चारे के अभाव में वैकल्पिक बिस्कुट उपलब्ध कराना था। पशुओं की जरूरतों के अनुरूप बनने वाले करीब एक किलो के चार बिस्किट 24 घंटे के लिए पशुओं के लिए उपयुक्त होता है । लेकिन प्रशासन की लापरवाही के कारण यहां तक काम शुरू नहीं हो सका।

अस्पताल के प्रभारी के अनुसार फैक्ट्री के आसपास जलजमाव और अन्य कारणों से इस योजना का काम शुरू नहीं हो पाया। फिलहाल सिस्टम की लापरवाही के कारण पशुओं को चारा उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।वैसे इस मशीन से मिलने वाली सुविधाओं के बारे में किसान अब तक अवगत भी नहीं है ।

वही संबंधित अधिकारी पूरी तरह उदासीन हैं। पशुपालकों के साथ जब इस मशीन के बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया की बाढ़ व सुखाड़ के समय कई दर्जन मवेशी मर जाते हैं चारे के अभाव में लेकिन इस मशीन से कोई लाभ नहीं मिला।