सरकार से भी ऊपर है DPS, गाइडलाइन से बाहर जाकर बढ़ाया स्कूल फीस

0
244

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

पटना : कोरोना संकट को देखते हुए एक तरफ कई शहरों में  स्कूल प्रबंधन से 1 महीने की फीस माफ करने का आग्रह किया जा  है।लेकिन इसके ठीक विपरीत पटना के डीपीएस स्कूल प्रबंधन ने शनिवार को अपना नया स्कूल फीस का स्ट्रक्चर जारी कर दिया। नया जारी किए गए फीस स्ट्रक्चर में  सरकार के आदेश का भी पालन नहीं किया गया ।

सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार फीस वृद्धि की जो तयशुदा मानक है उसको भी पालन नहीं किया गया है।सरकार के आदेश के अनुसार स्कूल 1 साल में 7 फिसदी  से अधिक अपने फीस में बढ़ोतरी नहीं कर सकते हैं, लेकिन इन सब के ठीक विपरीत डीपीएस ने सरकार के आदेश को नजरअंदाज करते हुए मिसलेनियस फी में 18.75 फिसदी और ट्रांसपोर्टेशन फीस में 17 फिसदी की बढ़ोतरी की है।

चार्जेज में बढ़ोतरी पर स्कूल प्रबंधन का कहना है कि हम अपने स्कूल में सभी सुविधाओं को मानक के अनुरुप ही रखते हैं।प्रबंधन का कहना है कि फी स्ट्रक्चर जारी करना मतलब किसी प्रकार का दबाव बनाना नहीं है। इसे किस्तों में भी दिया जा सकता है।डेडलाइन का भी कोई दबाव नहीं है। जिन अभिभावकों को परेशानी होगी उनका समाधान भी किया जाएगा।

बता दें कि बिहार निजी विद्यालय समिती की वर्तमान गाइडलाइन के मुताबिक कोई भी स्कूल 7 फिसदी से अधिक प्रबंधन शुल्क में बढ़ोतरी नहीं कर सकते हैं।यदि कोई स्कूल ऐसा कर रहा है तो अभिभावक इसकी शिकायत rdde.patna@gmail.com पर कर सकते हैं।इसकी जांच की जाएगी और सही शिकायत पाए जाने पर स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई की जाएगी।