सहरसा:-आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता करेंगी डोर टू डोर सर्वे – डीआईओ

0
259

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता करेंगी डोर टू डोर सर्वे – डीआईओ
– पल्स पोलियो के तर्ज पर होगा सर्वे
– प्रवासियों के गांव का सबसे पहले होगा सर्वे

सहरसा

कोरोना वायरस के संक्रमण के विस्तार को देखते हुए जिलों में संदिग्ध व्यक्तियों को चिन्हित करने के उद्देश्य पल्स पोलियो अभियान के आधार पर आशा, आंगनवाड़ी एवं अन्य स्वैच्छिक कार्यकर्ता के माध्यम से शत-प्रतिशत घरों का सर्वे का शुक्रवार से कराया जाना है।

सभी प्रभारी को मिला निर्देश

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद ने बताया कि सर्वे का कार्य सहरसा जिला के सभी प्रखंडों शहरी क्षेत्रों के शत-प्रतिशत घरों को सर्वे कराया कराया जाना है। रिविजिट का कार्य नहीं किया जाएगा।

प्रवासी गांव को सर्वे में प्राथमिकता

डॉक्टर कुमार विवेकानंद ने बताया कि सर्वे कार्य का वैसे गांव से प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा जहां राज्य के बाहर से अधिक संख्या में लोगों का आगमन हुआ है। इन गांवों में सर्वे समाप्त होने के पश्चात शेष बचे शत-प्रतिशत घरों का सर्वे में 5 दिनों में ही संपन्न कराया जाएगा। तथा सर्वे दल द्वारा चिन्हित तथा कोरेन्टीन किये गए संदिग्धों के सैंपल प्रयोगशाला को भेजना सुनिश्चित किया जाएगा।

वार्ता में यूएनडीपी के मोहम्मद खालिद, यूनिसेफ के एसएमसी मजहरूल हसन तथा बंनटेश नारायण मेहता, जिला प्रतिरक्षण कार्यालय के कर्मी दिनेश कुमार दिनकर एवं प्रमोद कुमार उपस्थित थे।