सड़क पर सिपाही की बेइज्जती पर DGP भड़के, दोषियों के खिलाफ एक्शन होगा।

0
289

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

अररिया के जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा बिहार पुलिस के एक सिपाही को सड़क पर बेइज्जत किए जाने के मामले में डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने जल्द एक्शन लेने की बात कही है।डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा है कि सड़क पर जिस तरह सिपाही को बेइज्जत किया गया उसका हक किसी को नहीं है। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा है कि अगर हमारे महकमे में कोई सिपाही और अधिकारी गलती करता है तो उसकी सजा तय करने का हक केवल मुख्यालय को है। लेकिन जिस तरह सिपाही को कान पकड़कर उठक बैठक कराई गई वह काबिले बर्दाश्त नहीं है।
सरकार ले रही संज्ञान

डीजीपी ने कहा कि मैंने एसपी से बात की है उसकी सूचना सरकार को दे दी है।सरकार संज्ञान ले रही है।आज जांच रिपोर्ट आ जाएगी उसका हम इंतजार कर रहे हैं। सिपाही नहीं वह चौकीदार हैं लेकिन वह हमारा अंग है।उसके इज्जत को खराब कर जो अधिकारी अपनी इज्जत बनाना चाहते वह बहुत ही शर्म की बात है।

कृषि पदाधिकारी ने किया था अपमानित

यह विवाद अररिया जिले के कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार से जुड़ा हुआ है।अररिया के जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार ने गुंडागर्दी दिखाते हुए ड्यूटी पर तैनात एक चौकीदार को सड़क पर बेइज्जत किया है।सिपाही का कसूर केवल इतना था कि उसने लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने के लिए जिला कृषि पदाधिकारी की गाड़ी रोक डाली।दसअसल आज सिपाही यह जानकारी लेना चाह रहा था कि गाड़ी किसकी है लेकिन इतनी सी बात पर जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार भड़क गए उन्होंने सिपाही की ऐसी की तैसी कर दी।