अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर महिला पुलिस कर्मी को प्रशस्त्री से किया गया सम्मानित।

0
295

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर महिला पुलिस कर्मी को प्रशस्त्री से किया गया सम्मानित।
सुपौल जिला सभागार में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला पुलिसकर्मी को DM, एवं SP, ने किया सम्मानित।
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सुपौल शासन प्रशासन के द्वारा महिलाओं के प्रति सराहनीय कार्य करने एवं उन्हें सशक्त बनाने के लिए उनके सुरक्षा में लगे महिला पुलिस पदाधिकारी व कर्मी को प्रशस्त्री पत्र से सम्मानित किया।
पु.अ.नि. प्रेमलता भूपाश्री महिला थानाध्यक्ष सुपौल के द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए स्कूल कॉलेज में जाकर शिविर लगाकर आत्मरक्षार्थ उपाय सिखाए गए, महिलाओं पर होने वाले अत्याचार से संबंधित कांडों का त्वरित कार्रवाई व निष्पादन किया गया तथा फ़ॉक्सो एक्ट के तहत कई अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा इनके द्वारा कराया गया है। साथ ही काउंसलिंग के जरिए कई दंपतियों के बीच पारिवारिक झगड़ों का भी निपटारा कराया गया है।
इनके द्वारा अपने कर्तव्यों का निर्वहन तत्परता एवं सूझबूझ से किया जाता रहा है।
जो सराहनीय है, इसके अलावा जिला में कोचिंग स्कूल कॉलेज में आने-जाने के समय तथा संध्या में मॉल व बड़े-बड़े दुकान आदि में लड़कियों एवं महिलाओं के साथ छेड़खानी फब्तियां कसने वाले मनचलों चैन स्नेचरों के रोकथाम एवं उससे निजात दिलाने के लिए तथा लड़कियों और महिलाओं के आत्मसुरक्षार्थ आत्मबल को बढ़ाने के उद्देश्य से जिले में शेरनी दल का गठन भी किया गया है।
इस दल के द्वारा लगातार शहरी क्षेत्र में पड़ने वाले स्कूल कॉलेज कोचिंग संस्था एवं भीड़भाड़ वाले बाजार में मोटरसाइकिल से भ्रमणशील होकर अपने कर्तव्य का निर्वहन तत्परता और समझदारी का परिचय देते हुए किया है।
जो सराहनीय कार्य है।
महिला दिवस के अवसर पर उनके आत्मबल को बनाए रखने हेतु शेरनी दल में प्रतिनियुक्त सभी महिला पुलिसकर्मी को प्रशस्त्री पत्र से पुरस्कृत किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here