उजियारपुर राजद विधायक व पूर्व सांसद ने किया एशिया की की सबसे लंबी 30220 मीटर की लंबी पुल का शिलान्यास।

0
491

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

एक पुल का होता है दो-दो बार शिलान्यास।

पुल के शिलान्यास का हमें कोई जानकारी नहीं मुखिया उमेश राय।

समस्तीपुर जिला रोसड़ा अनुमंडल विभूतिपुर विधायक रामबालक सिंह से जब फोन के माध्यम से संपर्क किया तो वे सही जानकारी नहीं दे पाए। आगे आपको बता दूं स्थल जांच के उपरांत एक जगह पर कई नेताओं द्वारा शिलान्यास किया जाता है क्या यह सही है ?
एशिया महादेश का महादेश का सबसे लंबा पुल जी हां सुन कर आश्चर्य होगा यह पुल समस्तीपुर जिले के उजियारपुर प्रखंड के लोहागिर पंचायती स्थित वार्ड- 1 में बनने जा रही है। जो कि राजद विधायक आलोक कुमार मेहता ने इस पुल का शिलान्यास समारोह किया है। वही एक और अनोखी बातें हैं कि कुछ दिन पूर्व इसी पुल का शिलान्यास समारोह पूर्वक 2 माह पूर्व समाजसेवी कमला कांत राय व लोहागिर पंचायत के मुखिया उमेश राय किए थे। जिसकी जानकारी मिलते ही विधायक जी के पैर तले जमीन खिसक गई थे और आनन-फानन में पुनः दोबारा स्कूल का शिलान्यास समारोह पूर्वक किया जिसमें गांव के एक भी जनप्रतिनिधि नजर नहीं आए। वही इस संदर्भ में पूछे जाने पर एक स्वर में बताया गया कि हम लोगों को कोई खबर ही नहीं थी। की पंचायत में एशिया का सबसे लंबी पुल का शिलान्यास किया जा रहा है।

रेड जोन से आए विधायक को संबंधित मुखिया कोरोन्टाईन करते:-पंचायत समिति गणेश कुमार पासवान

वहीं मौजूद निकासपुर के पंचायत समिति गणेश कुमार पासवान ने बताया कि ज ब्लॉक डॉन था लोग त्राहि-त्राहि कर रहे थे तो एक बार घूम के भी लोगों का हालचाल पूछने नहीं आए फिर आज विधायक जी रेड जोन पटना से चलकर पंचायत में पहुंचे जो सबसे पहले संबंधित मुखिया अजित उनको क्रॉन्पटन कर देती तभी ठीक होता और जब फूल का एक बार शिलान्यास हो गया तो दुबारा करने की क्या जरूरत थी।

वही लोहागिर पंचायत के मुखिया उमेश राय से एशिया की सबसे लंबी पुल के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि आज ग्राम पंचायत की बैठक थी हम लोगों को कुछ मालूम ही नहीं थाआगे उन्होंने बताया कि जब लोग त्राहिमाम थे तो एक बार विधायक घूम के नहीं लोगों की सुध लेने आए और आज एक पुल का दुबारा शिलान्यास समारोह आयोजित कर मीडिया में सुर्खी बटोरने आए हैं जनता समझ रहा है आने वाला दिन में इनसे सब हिसाब किताब लेगा। आपको बता दें कि 2 माह पूर्व स्थानीय मुखिया के द्वारा 46 मीटर लंबी जमवारी नदी पर पुल का शिलान्यास किया गया था वही पुल का दुबारा शिलान्यास उजियारपुर विधानसभा के विधायक आलोक कुमार मेहता के द्वारा 30,220 मीटर लंबी पुल का शिलान्यास विगत दिन किया गया। जो हम नहीं कर रहे हैं शिलान्यास पट गवाही दे रहा है।जिसको लेकर लोगों में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here