उत्तर प्रदेश सरकार का फैसला : वाराणासी – कानपुर में लागू हुवा कमिश्नरेट (पुलिस आयुक्त प्रणाली )

0
319

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश के दो जिला वाराणासी एवं कानपुर में लागू किया कमिश्नरेट( पुलिस आयुक्त) प्रणाली।

*कमिश्नरेट प्रणाली का अर्थ होता है पुलिस आयुक्त प्रणाली*

इस प्रणाली के लागू होने के अंतर्गत पुलिस के पास वो सारे अधिकार व शक्तियां होंगी जो मजिस्ट्रेट के पास होती है, कानून-व्यवस्था से जुड़े मामलों में प्रशासनिक अधिकारियों का हस्तक्षेप खत्म हो जाएगा। क्योंकि पुलिस को ही मजिस्ट्रेट के अधिकार प्राप्त हो जाएंगे। उसे मजिस्ट्रेट की तरह दंगे-फसाद के दौरान लाठीचार्ज, फायरिंग, गिरफ्तारी करने के आदेश देना, धारा 144 लागू करने की शक्ति मिल जाती है। इसके अलावा स्थानीय स्तर पर होने वाले धरना-प्रदर्शन, जुलूस आदि की अनुमति भी कमिश्नर दे सकता है। फिलहाल यह सभी अधिकार जिला मजिस्ट्रेट के पास होते हैं।


वाराणसी में दो और कानपुर में होंगे चार जोन
वाराणसी और कानपुर को दो-दो भागों में बांटा गया है। वाराणसी नगर में 18 पुलिस थाने होंगे जबकि वाराणसी ग्रामीण में 10 थाने होंगे। इसी तरह कानपुर नगर में 34 थाने होंगे और कानपुर आउटर में 11 थाने होंगे। वाराणसी नगर को दो जोन में जबकि कानपुर नगर को चार जोन में बांटा गया है। हर जोन में डीसीपी की तैनाती की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here