कर्मियों से राशि जबरन छीन रही सरकार- शिक्षक संघ

0
194

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

कर्मियों से राशि जबरन छीन रही सरकार- शिक्षक संघ

मोतिहारीl बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के वरीय सचिव ओमप्रकाश सिंह ने केन्द्र सरकार और बिहार सरकार द्वारा कर्मचारियों-पेंशधारियों का जनवरी,20 से जून,21 अवधि में भुगतेय महंगाई भत्ता-मंहगाई राहत राशि पर जबरन रोक के जारी आदेश का कड़ा विरोध किया है और इस आदेश को वापस लेने की माँग किया है और कहा कि इस आदेश के जरिये देश के लगभग 1.25 करोड़ कर्मचारियों से 10000 करोड़ से अधिक राशि जबरन छीन रही है सरकार । सरकार को चाहिए कि इस निर्णय के पहले कर्मचारी संगठनों , केंद्रीय ट्रेड यूनियनों या जेसीएम से सलाह मशविरा के पश्चात ही घोषणा करती। परंतु ऐसा नही कर सरकार द्वारा एकाधिकारवाद के तहत निर्णय सुना दिया गया । केन्द्र सरकार और बिहार सरकार का यह एकतरफा आदेश कर्मचारियों-पेंशनधारिओं का हजारों करोड़ रूपये जबरदस्ती है ।

वहीं अध्यक्ष मंडल के सदस्य अशोक कुमार चौधरी,गोलू सिंह,सतीश सिंह, प्रियरंजन सिंह,अबूल कमर,राहूल सिंह,मनीष कुमार, पिंकू कुमार उपेन्द्र दुबे आदि I नेताओं ने कहा कि डीए भुगतान पर रोक के मोदी सरकार के इस निर्णय से देश में कॉपोरेटों, पूंजीपतियों, मालिकों का मनोबल बढ़ेगा और वे भी अपने कर्मियों – मजदूरों के वेतन-भत्तों की कटौती करने को अग्रसर होंगे । सरकार इस दिशा में कार्रवाई कर कोरोना आपदा का पूरा बोझ मेहनतकशों व पेंशन धारकों के ऊपर लाद दिया है।अब नीजि कंपनियां भी वेतन-डीए भुगतान पर रोक व अन्य कटौती धड़ल्ले से शुरू करेंगे जिसकी शुरुआत भी कर दी गयी है ।