कोरोना से जंग : बाहर के व्यक्ति को गाँव में प्रवेश वर्जित ।

0
356

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

छौड़ाही बेगूसराय : कोरोना महामारी से अपने ग्राम पंचायत के निवासियों को बचाने के लिए छौड़ाही प्रखंड की सिहमा पंचायत के मुखिया पवन कुमार साह ने पंचायत के सभी मोहल्लों में जाने वाले रास्तों को सील कर खुद बहरे पर बैठ गए हैं। एक भी आदमी को ना मोहल्ले के अंदर जाने दिया जा रहा है ना ही बाहर। घरों पर भी निगरानी देख रहे हैं मुखिया जी। सिहमा पंचायत के माली चक्का गांव जाने वाली सड़क ग्रामीण सड़क को बांस बल्ला से बैरिकेडिंग कर खुद पहरे पर खड़े मुखिया सिहमा पंचायत के मुखिया पवन कुमार साह बताते हैं कि महामारी विकराल रूप धारण कर चुकी है हमारे पंचायत से काफी व्यक्ति बाहर रहते हैं जो गांव आ रहे हैं गांव के भी लोग लॉक डाउन का मतलब नहीं समझ बेवजह इधर -उधर जाते रहते थे। इससे महामारी फैलने की आशंका बढ़ गई थी।
इसलिए सख्त निर्णय लेते हुए गांव के प्रबुद्ध जनों के सहयोग से पंचायत में एक एक मोहल्ले की गली तक में इसी तरह बांस बल्ली लगाकर आवाजाही बंद कर दी गई है।बाहर से गांव आने वाले लोगों को गांव के विद्यालय में बने आवासन केंद्र में भेजा जा रहा है। वही बेवजह गांव में चलने वालों पर भी सख्ती बरत उन्हें घर के अंदर किया गया है । मुखिया ने बताया कि गांव के लोगों को किसी सामग्री की दिक्कत ना हो इसलिए स्वयंसेवक पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ टोले मोहल्ले में भ्रमण कर रहे हैं और लोगों को आवश्यक सामग्री, दवा आदि उपलब्ध करवा रहे हैं ।