कौशांबी पुलिस की कस्टडी में एनडीपीएस एक्ट के आरोपित शख्स की मौत

0
683

यूपी के कौशांबी में रविवार को पुलिस कस्टडी में अधेड़ शख्स की संदिग्ध मौत का एक बड़ा मामला सामने आया है। पुलिस ने अधेड़ व्यक्ति को शनिवार की देर रात कनवार नहर पुलिया के पास से सवा किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया था। रविवार को पुलिस कस्टडी में उसकी मौत के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा गया।

सैनी कोतवाली पुलिस ने शनिवार की देर रात इलाके के कनवार नहर पुलिया के पास से रिंकू सिंह को सवा किलो गांजा के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस ने आरोपित रिंकू सिंह पर एनडीपीएस एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजने की कार्यवाही कर रही थी। तभी रविवार की सुबह आरोपित रिंकू सिंह की हालत लॉकअप में अचानक बिगड़ गई। पुलिस ने उसे आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहाँ हालत में सुधार न देख डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। बदहवास पुलिस कर्मी आरोपित रिंकू को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस कस्टडी में आरोपित रिंकू की मौत की खबर मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में सैनी कोतवाली पुलिस मौत पर पर्दा डालने में जुट गई। मृतक रिंकू के चाचा बचोली सिंह के मुताबिक रिंकू के पिता राजेन्द्र सिंह की हत्या करीब 36 साल पहले प्रयागराज जिले में हुई थी। रिंकू घर मे अकेला रहता था। उसके हरकतों की वजह से रिस्तेदार उससे कोई मतलब नही रखते थे। गिरफ्तारी के बाद रविवार की दोपहर पुलिस कस्टडी में रिंकू की तबियत खराब होने की जानकारी उन्हें पुलिस ने दी। जिसके बाद वह मौके पर पहुंचे तो पता चला की रिंकू सिंह की मौत हो चुकी है। पुलिस वालों ने मृतक रिंकू सिंह के साथ क्या किया, उन्हें इस बारे में कुछ पता नही है।

जिला अस्पताल इमरजेंसी वार्ड के चिकित्सक डॉ. विवेक केसरवानी के मुताबिक सैनी पुलिस रविवार की दोपहर एम्बुलेंश से एक युवक को लेकर आई है। जिसकी पल्स नही मिल रही थी, लिहाजा ब्रॉड डेड घोषित कर दिया गया। घटना के बाबत पुलिस अधीक्षक अभिनन्दन ने सफाई देते हुए बताया कि सैनी कोतवाली पुलिस ने रिंकू सिंह नाम के शख्स को गिरफ्तार किया था। जिसकी उम्र 40 से 45 वर्ष बताई गई है। इस पर सैनी कोतवाली में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। सुबह उसकी तबियत बिगड़ी, जिसको कम्युनिटी हेल्थ सेंटर सिराथू ले जाया गया। जहां प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टरों ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। दौरान इलाज उसकी जिला अस्पताल में मौत हो गई। इस मामले में पोस्टमार्टम की कार्यवाही कराई जा रही है। पूरे प्रकरण की जाँच एडिशनल एसपी अशोक कुमार को सौपी गई है।