कौशांबी पुलिस की हैवानियत, किशोर को खंभे में बांधकर बेरहमी से पीटा

0
493

यूपी के कौशांबी में एक बार फिर पुलिस की बर्बरता सामने आई है। दरअसल चोरी के आरोप में चौकी के दबंग सिपाही ने एक किशोर को खंभे से बांधकर बेरहमी से पीटा है। पुलिस की थर्ड डिग्री से किशोर चीखता-चिल्लाता रहा। लेकिन बेरहम पुलिस को उस पर तनिक भी तरस नही आई। पीड़ित के परिजनों के शिकायत के बाद एसपी ने आनन-फानन में आरोपी सिपाही को सस्पेंड करते हुए मामले में जांच के निर्देश दिए है।

सरायअकिल थाना क्षेत्र के कनैली गांव का 15 वर्षीय किशोर हिमांशु अपने खेतों की तरफ घूमने गया था। रास्ते में उसे कनैली चौकी के एसआई और सिपाही जयसिंह मिले। आरोप है कि सिपाही नशे में धुत था। उन्होंने किशोर को पड़ोसी की साइकिल चोरी के आरोप में पकड़ ले गए। आरोप है कि सिपाही ने किशोर को खंभे में बांधकर लाठियों से बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी। इस दौरान किशोर चीखता और चिल्लाता रहा। इतना ही नही पुलिस वालों से रहम की भीख मांगता रहा। लेकिन हैवान बने सिपाही को उस पर तनिक भी तरस नही आई। बेरहमी से पिटाई के बाद पीड़ित परिजनों से सुलह के नाम पर पुलिस ने साढ़े 9 हजार रुपए भी लिया। सिपाही ने धमकी दिया कि किसी से शिकायत किया तो फर्जी मुकदमे में जेल भेज दूंगा।

पुलिस की चंगुल से रिश्वत देकर अपने बेटे को छुड़वाने के बाद हिम्मत जुटाकर पीड़ित किशोर के पिता सुरेश मौर्या ने पुलिस की बर्बरता की शिकायत एसपी अभिनंदन से किया। किशोर के शरीर की चोट देखकर एसपी ने सिपाही को सस्पेंड कर विभागीय जांच बैठा दिया। चोट इतनी गहरी है कि 5 दिन बाद भी चोट के निशान उसी तरह हरे दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि क्या पुलिस की बर्बरता का शिकार किशोर को आरोपी सिपाही के सस्पेंड मात्र से इंसाफ मिल गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here