जल ही जीवन है और जल का कोई विकल्प नहीं है : कृषि विभाग

0
405

जल ही जीवन है और जल का कोई विकल्प नहीं है : कृषि विभाग

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट:-

ताजपुर प्रखंड के आधारपुर पंचायत के पंचायत भवन के परिसर में कृषि विभाग के सौजन्य से किसान चौपाल कार्येक्रम का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता पैक्स अध्यक्ष धीरेंद्र कुमार धीरज की जबकि मुख्य अतिथि मुखिया विश्वनाथ राय थे।कार्येक्रम को संबोधन करते हुए कृषि समन्वयक हरिदर्शन चौधरी ने जल जीवन हरियाली योजना, प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना, ड्रिप सिंचाई, स्प्रिंकलर सिचाईं, समेकित कृषि प्रणाली, मिट्टी जांच इत्यादि विषयों पर विस्तार से प्रकाश डाला। पंकज कुमार कृषि समन्वयक ने उपस्थित किसानों को जलवायु परिवर्तन से बचने के लिए जल को संचयन करने हेतु भिविन्न तरह के उपाय जैसे- जीरो टिलेज से खेती, मशरुम की खेती, सहजन की खेती, मल्चिंग, ड्रिप स्प्रिंकलर से सिचाईं, जैविक खेती इत्यादि पर किसानों को प्रशिक्षित किया, पंकज कुमार का कहना है कि जल है तो जीवन है और जल का कोइ विकल्प नहीं है इसलिए हमलोग अभी से ही जल संचयन का कार्ये विभिन्न तरीकों से करना शुरू कर दे ,क्योंकि अगला विश्व युद्ध पानी के लिए ही होगा, इसके लिए अभी से ही सजग और जागरूक होने की बात की, कार्येक्रम का संचालन किसान सलाहकार अवधेश कुमार सिंह ने की एवम धन्येवाद ज्ञापन सुजीत कुमार वर्मा कृषि समन्वयक के द्वारा किया गया।प्रशिक्षण ले रहे किसानों में सरोज कुमार, संतोष कुमार, नुनु सिंह, धनिक लाल मंडल, गनेशी सिंह, वैजू एवम अन्य सैकड़ो किसानों की उपस्थिति हुई।