*जिंदा नहीं हो पाए एक, मरने के बाद एक होकर हुवे दुनिया से विदा

*जिंदा नहीं हो पाए एक, मरने के बाद एक होकर हुवे दुनिया से विदा*

*पोस्टमार्टम के बाद कानपुर के भैरवघाट मे किया गया प्रेमी युगल का अंतिम संस्कार*

घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के नंदना चौकी अंतर्गत तेजपुर गांव में 23 तारीख की देर रात को बाग में बेर के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले प्रेमी युगल का अंतिम संस्कार पोस्टमार्टम के बाद भैरव घाट में पुलिस एवं परिजनों के मौजूदगी में अगल-बगल किया गया, अंतिम संस्कार में दोनों ही परिवार के कुछ ही लोग मौजूद रहे, बताते चलें घाटमपुर कोतवाली के नंदना चौकी अंतर्गत तेजपुर गांव में 23 तारीख की रात गांव के ही प्रशांत और पूजा (काल्पनिक नाम) ने गांव के बाहर बाग में बेर के पेड़ मे दुपट्टे के सहारे फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी, बताया गया कि प्रशांत और पूजा पिछले डेढ़ वर्ष से एक दूसरे से प्यार करते थे और आपस में शादी करना चाहते थे, जानकारी के अनुसार परिजन भी शादी के लिए तैयार थे परंतु बताते हैं की जिस समय प्रशांत और पूजा से शादी के लिए पूछा गया, उस वक्त दोनों में आपस में कुछ खटास थी, जिसके चलते दोनों ने शादी से इंकार कर दिया, जिसके बाद प्रशांत गुजरात के सूरत शहर में प्राइवेट नौकरी करने लगा, वही प्रशांत के परिजनों ने क्षेत्र के सलामतपुर गांव में प्रशांत की शादी तय कर दी, शादी की बात सुनकर पूजा परेशान हो गई, आने वाली 21 जून को प्रशांत की शादी तय थी, 4 दिन पहले प्रशांत गुजरात से वापस लौटा, जिसके बाद दोनों की मुलाकात हुई और पुराना प्यार एक बार फिर परवान चढ़ा, जहां प्रशांत के परिजन प्रशांत की शादी की तैयारियों में जुटे हुए थे,वही पूजा के मामा की शादी भी अगले दिन थी, जिसकी तैयारियों में पूजा के परिजन लगे हुए थे, प्रशांत के परिजनों के अनुसार प्रशांत 22 तारीख की दोपहर घर से गजनेर जाने के लिए कह कर निकला, वहीं रात के 10बजे के बाद पूजा भी घर से गायब हो गई, जिसका पता घरवालों को ना चल सका, सवेरे खेत जा रहे ग्रामीणों ने गांव के बाहर बाग में बेर के पेड़ पर दोनों को फांसी पर लटका देखा तो हड़कंप मच गया, खबर फैलते ही मौके पर ग्रामीणों की भारी भीड़ जुट गई, सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को नीचे उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा,वही 23 तारीख को दोपहर बाद पोस्टमार्टम होने के बाद दोनों के ही शव को कानपुर के भैरव घाट पर अगल बगल कुछ परिवारी जनों के बीच अंतिम संस्कार किया गया, हृदय विदारक दुखद घटना के बाद गांव में दुख का माहौल है।. कानपुर संवाददाता विपिन कुमार की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here