जिला पदाधिकारी ने कोरोनावायरस को लेकर अधिकारियों को दिया दिशानिर्देश, किया क्षेत्र भ्रमण तथा कोरोनावायरस पर ली जानकारी।

0
386

 बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोट:-

सहरसा-कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव की तैयारियों को लेकर जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने आज पूरे दिन क्षेत्र भ्रमण कर तैयारियों का जायजा लिया और सभी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिला मुख्यालय में 100 बेड की आइसोलेशन सेंटर के संदर्भ में जिलाधिकारी ने पटेल मैदान स्थित आपात राहत केंद्र के भवन का निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी को जानकारी दी गई कि पूर्व में बाढ़ आश्रय स्थल के रूप में आपदा राहत केंद्र का निर्माण कराया गया था। जिलाधिकारी ने सभी उप परिसर में स्थित सभी हॉल शौचालय सहित पूरे परिसर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने नगर परिषद के द्वारा संपूर्ण परिसर शौचालय की साफ-सफाई कराने का निर्देश दिया। जिला पदाधिकारी ने भवन के द्वारा सैनिटाइज के लिए दिशा निर्देश दिया। सिविल सर्जन के माध्यम से सभी कमरों और परिसरों को सेनीटाइज कराने के लिए कहा गया। वहीं अपर समाहर्ता को निर्देश दिया गया कि साफ-सफाई एवं सैनिटाइजेशन के उपरांत सभी कमरों में निर्धारित दूरी पर लगवा दें और उन पर सब गंदे सफेद चादर की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। आपदा राहत केंद्र स्थित हॉल में कहीं-कहीं समतल फर्श नहीं रहने पर सभी कमरों के फर्श पर कालीन बिछाने का निर्देश दिया गया।
पेयजल एवं शौचालय की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया साथ ही सभी भवनों को यथासंभव वाइट वास कराते हुए वहां आपदा राहत केंद्र का बोर्ड बैनर लगवाने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने दिया दिशानिर्देश अलग अलग टीम बनाकर संध्या तक कार्य को करें पूर्ण-

अपर समाहर्ता विशेष कार्य पदाधिकारी आपदा प्रबंधन प्रभारी सह भूमि सुधार उप समाहर्ता सदर एवं प्रतिनिधि जिला लेखा पदाधिकारी को अलग अलग टीम बनाकर आज ही संध्या तक सभी व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।पटेल मैदान भिवानी आने के सामने राजस्थान, झांसी से आए हुए घुमंतू लोगों को यत्र तत्र देख के जिलाधिकारी ने आपदा प्रभारी को निर्देश दिया कि बाढ़ राहत में आए कैंट सिविल का संस्थापन पटेल मैदान में कराते हुए उनके लिए आवासन की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं इसके पूर्व जिलाधिकारी बरियाही, सत्तर कटैया, पंचगछिया, पटोरी बिहरा आदि क्षेत्रों का भ्रमण कर लॉक डाउन की स्थिति का जायजा लिया और मार्ग में बाहर निकले लोगों से उन्होंने कहा कि वे अपने-अपने घरों में रहे और लॉक डाउन के निर्देशों का पालन करें।