प्रयागराज के जिलाधिकारी की अध्यक्षता में डेंगू एवं अन्य संचारी रोगों के नियंत्रण के सम्बंध में समीक्षा बैठक सम्पन्न ।।

0
79

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में डेंगू एवं अन्य संचारी रोगों के नियंत्रण के सम्बंध में समीक्षा बैठक सम्पन्न

जिलाधिकारी ने डंेगू एवं अन्य संचारी रोगो के प्रभावी नियंत्रण हेतु साफ-सफाई, छिड़काव एवं जागरूकता अभियान चलाये जाने का दिए निर्देश ।

जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में सोमवार को संगम सभागार में ‘राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम‘ के अन्तर्गत जनपद स्तरीय अंतर्विभागीय समन्वय/समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जनपद के सभी निजी नर्सिंग होम संचालक, मेडिकल कालेज के प्राचार्य व सभी सीएमएस व अभियान से जुड़े सभी विभागों के नोडल मौजूद रहे। डेंगू एवं सभी संचारी रोगों पर नियंत्रण लगाने के लिए जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए निजी नर्सिंग होम के संचालकों को बेड, प्लेटलेट व इलाज से जुड़ी सुविधाएं अस्पताल में बढ़ाने को कहा। उन्होने कहा कि ‘संचारी रोगों को हराने के लिए जनहित में काम करने वाले अस्पतालों की जिला प्रशासन हर संभव मदद करेगा। इलाज के लिए अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों के साथ अस्पताल प्रशासन इंसानियत का व्यवहार रखें। हम सभी को मिलकर संचारी रोगों को हराना है और यह तभी संभव है जब अस्पताल पहुंचने वाले हर मरीज इलाज को इलाज मिले।‘ उन्होंने कहा कि ‘प्राइवेट नर्सिंग होम व लैब अपनी सुविधाएं बढ़ाएँ व निर्धारित दरों के आधार पर ही मरीजों से पैसे की मांग करें। जिला मलेरिया अधिकारी एवं जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि ‘दस्तक अभियान के अंतर्गत जिन मरीजों के अंदर डेंगू के लक्षण पाये जाते हैं, उनका मोबाइल नम्बर तथा घर का पता उपलब्ध होने पर वहां पर बुखार के मरीजों की जांच, एन्टीलार्वा छिड़काव लार्वा स्रोत समापन एवं फागिंग जरूर कराएं।‘ सभी सम्बंधित विभागों का दायित्व निर्धारित किया गया है, जिसमें स्वास्थ्य विभाग द्वारा छिड़काव का कार्य व आशाओं के माध्यम से एण्टोमोलाजिकल सर्विलांश कराना, जिसमें जल भराव के पत्रों को खाली कराना प्रमुख है। बुखार रोगियों की लाइन लिस्टिंग, जांच एवं उपचार कराना, ग्राम स्वच्छता समिति के माध्यम से एण्टी लार्वा छिड़काव में ग्राम पंचायत को सहयोग देना, शहरी क्षेत्र में नगर निगम से समन्वय स्थापित कर एण्टी लार्वा का छिड़काव करना, डोमोस्टिक ब्रीडर चेकर्स के माध्यम से शहरी क्षेत्र में सोर्स रिडक्शन का कार्य कराना है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰ नानक सरन ने बैठक में कहा कि ‘निजी नर्सिंग होम में कितनी मात्रा में प्लेटलेट की खपत हो रही है व उनमें डेंगू के कितने मरीजों को प्लेटलेट कितनी मात्र में चढ़ाई गई यह सभी जानकारी प्रतिदिन निजी संचालक विभाग से साझा करेंगे साथ ही डेंगू मरीजों के बारे में मुख्य चिकित्साधिकारी के मो0 नं0 9044044040 तथा जिला मलेरिया अधिकारी 7007631725 पर जानकारी दी जा सकती है। डेंगू के प्रसार के प्रभावी नियंत्रण हेतु टीम का गठन किया गया है तथा सम्बंधित विभागों का दायित्व निर्धारित किया गया है। बैठक में डिस्ट्रिक पब्लिक हेल्थ एक्स्पर्ट डॉ. वरुण पात्रा ने पीपीटी के माध्यम से डेंगू ट्रीटमेंट एवं प्रोटोकोल से जुड़ी जानकारी साझा की। बैठक का संचालन नोडल वेक्टर बोर्न डॉ वी0के0 मिश्रा द्वारा किया गया।इस दौरान सभी डिप्टी सीएमओ, एसीएमओ, मेडिकल कालेज के प्राचार्य, स्वास्थ्य केंद्रों के सीएमएस सहित प्राइवेट अस्पतालों के संचालकगण भी उपस्थित रहे।

।। प्रयागराज से राम शिरोमणि की रिपोर्ट NAC न्यूज़ ।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here