*प्रशासन की कार्यवाही पर सवाल ही सवाल* ●

*प्रशासन की कार्यवाही पर सवाल ही सवाल* ● सजेती कांड को लेकर पुलिस प्रशासन द्वारा तेजी से की गई कार्यवाही संदेह के घेरे में आ रही है. जल्दबाजी में उठाए गए पुलिस द्वारा कदम उसी के गले की फांसी बनते जा रहे हैं. पीड़िता व उसके पिता की मौत पर की गई कार्यवाही पर कुछ शंकाएं भी उठने लगी है .जिस प्रकार निर्दोष पुलिसकर्मियों पर गाज गिराने एवं उच्च अधिकारियों पर कार्यवाही ना करने का प्रश्न चिन्ह हुआ है. जिससे हर कोई हैरान है. चौकी इंचार्ज घाटमपुर का निलंबन हो या सिपाही जिसकी ड्यूटी मुख्यमंत्री कार्यक्रम में लगी होने के बावजूद उस पर कार्यवाही पुलिस को कटघरे में खड़ी कर रही है. वही वास्तविक दोषियों को बचाने का आरोप भी लग रहे हैं। कानपुर घाटमपुर से संवाददाता विपिन कुमार की रिपोर्ट