बिजली विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं से सौतेला व्यवहार

0
298

बिजली विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं से सौतेला व्यवहार*

कानपुर घाटमपुर तहसील क्षेत्र में बिजली विभाग ग्रामीण उपभोक्ताओं से सौतेला व्यवहार करता नजर आ रहा है. यहां ग्रामीण क्षेत्रों की विद्युत व्यवस्था अस्त-व्यस्त है वही नगरीय क्षेत्र में होने वाले एक ट्वीट पर बिजली विभाग तुरंत सक्रिय होता है. वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में लटक रहे विद्युत तारों एवं बिजली संबंधी अन्य समस्याओं को लेकर को लेकर विभाग पूर्णतया लापरवाह बना हुआ है .एक ऐसा ही मामला घाटमपुर तहसील में देखने मे आया है जहां एक ट्वीट के 25 मिनट बाद विभाग ट्वीट करने वाले को जल्द से जल्द समाधान करने की बात कहता है. वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं द्वारा महीनों पहले की गई विद्युत संबंधी शिकायतो पर क्षेत्र के कुछ गांवो में विभाग की लापरवाही की वजह से लोगों के जान एवं माल आफत में पड़े हुए हैं. पर फिर भी विभाग लापरवाही की सारी हदें पार कर रहा है. तहसील क्षेत्र के रामसारी गांव हो सजेती क्षेत्र का अज्योरी गांव या पतारा तिलसड़ा,छांजा, रायपुर ,भीतरगांव ब्लाक के सतरहुली, बेहटा बुजुर्ग क्षेत्र के गांव हो या अन्य कोई ग्रामीण क्षेत्र हर जगह आपको विद्युत तार जमीन से 7 से 8 फुट ऊपर लटके नजर आएंगे पर कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में यही तार मकान के ऊपर लटके नजर आ रहे हैं वही अज्योरी गांव में प्राथमिक विद्यालय के बगल में लगा खंबा बीच से टूटा हुआ एवं एक पतले से वायर के सहारे सधा हुआ है जो कभी भी बड़े हादसे का सबब बन सकता है और जिसकी शिकायत ग्रामीण एवं प्रधान द्वारा कई बार विद्युत विभाग को दी जा चुकी है. पर लापरवाह विभाग ग्रामीण क्षेत्रों के प्रति उदासीन हैं. बीते दिन यमुना तटवर्ती गांव गडाथा में भी एक उपभोक्ता द्वारा चकरोड के ऊपर लटक रहे विद्युत तार और अधिक दूरी पर लगे खम्भो को लेकर तहसील परिसर स्थित उप जिलाधिकारी कार्यालय में उप जिलाधिकारी को ज्ञापन के जरिए शिकायत की गई थी पर शिकायत के 20 दिन के ऊपर गुजर जाने के बावजूद भी विभाग ने आज तक उस जगह कोई कार्य नहीं किया है. जिससे ग्रामीणों में रोष देखा जा रहा है. वही नगरीय क्षेत्र में एक ट्वीट के बाद हरकत में आने वाले बिजली विभाग को ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की समस्याएं नहीं दिख रही है. सोचने वाली बात है कि ऐसी व्यवस्थाएं किसका भला करेंगी।.
कानपुर से जिला संवाददाता विक्रम सिंह की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here