बिहार से वापी दमन में काफ़ी काम करने आये और रह रहे है चालियो में जिंदगी बसर कर रहे लोग

0
313

काफ़ी बड़ी समस्या खड़ी है उत्तर भारतीय up और बिहार से वापी दमन में काफ़ी काम करने आये और रह रहे है चालियो में जिंदगी बसर कर रहे लोग काफ़ी दुखी है या तो उनको सही सलमात घर भेज दिया जाए या उनकी राशन पानी दिया जाए रेन्ट पर रूम लेकर जिन्दगी बसर करते लोग जो महज़ 1000।12000 सेलरी पे कम्पनी में मंजूरी करते है उनका जीवन मुहाल हो गया है कहा से आएगा कोन इतना दिन तक उधार खिलायेगा और सब्जी के रेट भाव बढ़ा दिए गए है काफी बुरी पोजीसन में मुहाल है सरकार से अपील है जो भी बाहर से आकर बसे है उनको सही सलमात उनके वतन भेजा जाए अभी तो आने जाने का किराया भी नही है यातायात पूरी तरह बन्द है जाए तो काहा जाए सीमेंट के पतरे चाली में रूम है भयंकर गर्मी में छोटे स्व रूम में पूरा दिन अंदर रह कर जीने पे मजबूर है अगर बाहर कुछ खरीदने जाते है तो पुलिस बेहरमी दिखा देती है जब कि चेकपोस्ट पर रात्रि 10 बजे के बाद ट्रक वाले घुस देकर आ जा रहे सब्जी वाले कुछ लेंन देंन कर के आ जा रहे है और फिर डबल भाव मे सब्जी बेची जा रही है जगह जगह पुलिस प्रसासन नाका बन्दी लाठी लेकर घूम रहे है जरा सा कोई दिखा धो डाल ते है कभी किसी पर परदेसी के रूम में देखा खाना बना या नही काफी बड़ी समस्या है किसी के पास रसोई गैस भराने के लिए पैसे नही किसी के पास सब्जी लाने को पैसे नही बुरी तरह हाल कब तक जियेंगे क्या जिस रूम में रहते है उनका गरीब किराया कहा से लाकर देगा रूम मालिको को चाइए कि उनको किराए के लिए प्रताड़ित न करे और मोदी सरकार से अपील है उनको अपने वतन भेज दिया जाए🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻