*बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से फसलों और आम के बौर को नुकसान* *चीफ बीयूरो* – *अरुण मिश्र* *कूरेभार* बीते दो दिन से जारी बेमौसम बरसात तथा ओले गिरने से फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। इसके साथ ही जनजीवन भी प्रभावित है। गुरुवार रात के साथ शुक्रवार सुबह तेज हवा के साथ बारिश तथा ओले गिरने से मौसम अचानक बदल गया है। बारिश के साथ ओले गिरने से गेंहू, सरसों तथा आम की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। वहीं बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से क्षेत्र के किसान सहम गए। इस बेमौसमी बारिश से गेहूं की अगेती और इस समय खेतों में पकी खड़ी सरसों की फसल को नुकसान पहुंचा है। तीन दिन पहले भी हुई बारिश और ओलावृष्टि से क्षेत्र में भारी नुकसान हुआ था। क्षेत्र के कुछ किसान इस बारिश को फायदे और नुकसान की नजर से देख रहे हैं।किसानों का कहना है कि ये बारिश पीछेती फसल के लिए फायदेमंद तो अगेती फसल के लिए नुकसान का सौदा है। वहीं आम के बौर को भी ओलावृष्टि से काफी हानि हुई है। बेमौसम बारिश से खेतों में कटी पड़ी सरसों, मसूर की फसल को नुकसान पहुंचा है। गेहूं, गन्ना भी गिर गया है। आलू, अरहर की फसल को नुकसान पहुंचा है। क्षेत्र में किसान सरसों, मसूर की कटाई कर रहे थे । फसल भीगने से नुकसान निश्चित है। वही खेत में खड़ी सरसों की फसल और आम का बौर भी झड़ गयी। रात से शुरू हुई बरसात से पिछैती गेहूं, सब्जी की फसल तथा हाल में बोए गए गन्ने को लाभ हुआ है, लेकिन पकी सरसों जो कट चुकी थी उसका नुकसान हुआ था।हवा से तैयार खड़ी गेहूं की फसल गिरने लगी है ।

0
390

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here