भरवारी पुलिस चौकी में दलालों के वर्चस्व से फरियादियों की नहीं होती सुनाई ।

0
110

कौशाम्बी थाना कोखराज के भरवारी पुलिस चौकी के कुछ सिपाही है बेलगाम महिला फरियादी पर बनाते हैं दबाव । उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमारा गयी जो समाज के हर जुबान से सुनाई पडता है । जिसमे कौशाम्बी जनपद के कोखराज थाना क्षेत्र के भरवारी पुलिस चौकी के सिपाही है सुर्खियों में । ऐसा ही मामला सामने आया है कि एक महिला फरियादी न्याय के लिए आई थी जिसे चौकी के सिपाही ने न्याय तो नहीं दिलाया उल्टा उसके विपक्ष के ऊपर स्थानीय दलाल का हाथ होने के कारण पुलिस उल्टा फरियादी महिला को फसाने की धमकी दे कर डरवा धमका कर भगा दिया । यह पहला मामला नहीं है यहां तो सिर्फ दलालों की ही चलती है यह चर्चा में है । वहीं मीडिया भी एक कोने से पुलिस चौकी में दलालों की हर हरकत पर नजर बनाये रहती है फरियादी के द्वारा यहां तक सुना जाता है कि बिना लेन देन किये कोई भी मामला पुलिस हल नहीं करती जहां भाजपा सरकार के एजेंडे में रहा कि अपराध मुक्त प्रदेश रहेगा पर जब खाकी वर्दी ही अपराधियों के साथ खडी है तो सरकार के मंशा कैसे सफल होगा खबरों पर ध्यान न देना भी अपराध को खुली सह देना है भरवारी पुलिस चौकी के सिपाही पैसे के तलाश में रहते हैं जिसमे दो चार नाम मीडिया के पास भी पुलिस के है । पुलिस अधीक्षक श्री राधेश्याम विश्वकर्मा जी का निरीक्षण तो भरवारी पुलिस चौकी में हुआ पर वह सीसीटीवी कैमरे को नहीं निरीक्षण किया जिसके कारण पुलिस चौकी मे आने वाले चेहरे जो खुद ही इंसाफ करते है वह फुटेज में होते पर सीसीटीवी कैमरा तो सिर्फ शोपीस है पूर्व रहे पुलिस अधीक्षक श्री अभिनन्दन सिंह ने एक नियम बनाया था कि आने वाले लोगों की इंट्री दर्ज हो वह किस काम से आया है और कितनी देर तक वह चौकी पर बैठा रहा उसके आने जाने का समय आगन्तुक रजिस्टर में इन्ट्री करने का आदेश दिया गया था जो कुछ समय तक प्रभाव शाली रहा जिसके कारण उस वक्त में दलालों की कमर टूट गई थी वहीं सूत्रों द्वारा बताया गया कि आज की हालत यह है कि भरवारी चौकी से अधिक तर फरियादी मायूस होकर जाते है जो कानून व्यवस्था पर धब्बा है और सरकार की नाकामी को दर्शाता है जो कानून के रक्षक पर धब्बा है ।नेशनल एन्टी करप्शन न्यूज चैनल ब्यूरो चीफ कौशाम्बी राजेश कुमार श्रीवास्तव की रिपोर्ट 18/07/2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here