महामारी और बढ़ गयी तो उनकी पोल खुल जायेगा

0
207

Lok Samaj Party
लोक समाज पार्टी
दोस्तों प्रणाम,प्राचीन काल मे जिस बिहार राज्य मे चीन से ह्वेन सांग,फाह्यान,सीलोन, इंडोनेशिया,जपान,कोरिया मलेशिया के 10हजार छात्र पढ़ने आते थे उसके शिक्षा व्यवस्था को राबड़ी देवी व नीतीश सरकार बरबाद कर दिये।
2003 मे राबड़ी देवी सरकार बिहार की प्राईमरी स्कूलों को शिक्षा मित्र सिस्टम को 11महीने के लिये संविदा पर रखी जिसको नवंबर 2005में नीतीश जी स्थाई बना दिया और हर शिक्षण संस्थानों मे ठेकेदारी प्रथा लागू कर दिये।वहां की शिक्षा का हाल यह है कि 2009मे पहली कक्षामे 27लाख बच्चे दाखिला लिये थे जबकि 2018मे लगभग18 लाख बच्चे ही शामिल हुये उस प्रकार 9 लाख अपनी पढ़ाई छोड़ दिये यह सामंतवादी मानसिकता के नौकरशाह चाहते भी है। वे रामायण व महाभारत काल में प्रचलित शिक्षण व्यस्था के तहत आमजन को पढ़ाई से या मना नही कर सकते इसलिये यह दूसरा शिक्षा मित्र, ठेकेदारी निजीकरण जैसी व्यस्था लाये हैं।
कोटा राजस्थान मे बिहार के 25000 छात्र इस महामारी के कारण अपने अपने घर जाना चाहते है लेकिन नीतीशजी वहां इसलिये नही बुलाना चाहते है अगर महामारी और बढ़ गयी तो उनकी पोल खुल जायेगा क्योंकि शिक्षा की स्वास्थ्य व्यवस्था भी चौपट हो गयी है।
लोक समाज पार्टी आप लोगों से अपील करती है कि आप लोग एक नये विकल्प के तहत स्वास्थ्य व शिक्षा जैसी आवश्यक सेवाओं पर काबिज शिक्षा व स्वास्थ्य माफियाओं की ठेकेदारी व निजीकरण खत्म करवाने योगदान करे।धन्यवाद ।
गौरी शंकर शर्मा (एडवोकेट) राष्ट्रीय अध्यक्ष लोक समाज पार्टी 8920651540& 9911140170