महिलाओं के साथ योन शोषण पर इस्लाम की देन का वायरल

0
465

इतिहास में हुई घटनाओं में महिलाओं के साथ योन शोषण पर इस्लाम की देन का वायरल कर समाज में सौहार्द्र को बिगड़ने की साजिश रची जो नगरपालिका भरवारी के सोशल ग्रुप में वायरल किया गया। वायरल करने की क्या मंशा है यह प्रशासन के लिए बडी़ बात साबित हो सकती है।जो जांच का भी विषय है। अगर समय रहते इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो। उत्तर प्रदेश कौशाम्बी जनपद के थानाकोखराज क्षेत्र अंर्तगत नगरपालिका भरवारी के पुरानी बाजार अंजही के निवासी वेद प्रकाश स्वर्ण कार ने इतिहास को माध्यम बना कर इस्लाम को महिलाओं के साथ यौन शोषण अपराध की देन को बता लम्बा चौडा़ लिखा इतिहास की बात को नगरपालिका भरवारी के सोशल ग्रुप में पोस्ट की।उस ग्रुप में मुस्लिम समाज के अधिक लोग ऐड है।ऐसे ग्रुप में ऐसे भडकाऊ पोस्ट वायरल करनेवाले का क्या मतलब रहा ।क्या कस्बे की अमन चैन को छिनने की कोशिश है।या पागलपन का शिकार है व्यक्ति जो गैर जिम्मेदाराना पोस्ट को वायरल किया।अभी तो नगरपालिका भरवारी के ग्रुप में मुस्लिम समाज के सम्मानित लोगों ने विरोध लिख कर किया है। यह और बात है कि भरवारी कस्बे के मुस्लिम समाज के लोग जागरूक होने के साथ उनके पास इंसानियत देखी गई।नहीं तो ऐसे पोस्ट को लेकर समाज के अंदर का सौहार्द को बिगड़ने में समय नहीं लगता।वहीं दूसरी ओर मुस्लिम समाज के लोगों ने एन ए सी न्यूज चैनल के ब्योरो चीफ कौशाम्बी से वार्ता में भाई चारा की बात कही और इस्लाम पर भद्दी भाषा से अपमानित किया पोस्ट वायरल करनेवाले वेद प्रकाश स्वर्ण कार पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ऐसे लोगों से समाज में फैलती है गंदगी जो समाज के अमन चैन के दुश्मन है ।जहाँ भाजपा सरकार ने शान्ति संदेश देश में कायम रखना चाहती है।वहीं प्रशासन भी ऐसे लोगों को सख्त चेतावनी जारी की है। कि ऐसे लोगों को चिन्हित किया जो समाज में भडकाऊ पोस्ट वायरल कर समाज के अंदर का सौहार्द बिगाडने में कोई कोर कसर नहीं छोड रहे हैं ।इस वायरल पोस्ट करने वाले के विरूद्ध पुलिस प्रशासन की क्या नजरिया होगा।क्या ऐसे व्यक्ति को खुले में छोडना प्रशासन के लिए ठीक होगा।या इसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर भाजपा सरकार को समाज के अंदर निष्पक्ष साबित किया जायेगा। अब यह पुलिस प्रशासन पर निर्भर करता है। लेकिन भरवारी नगरपालिका मे कभी हिंदू धर्म के लोग और मुस्लिम समुदाय आमने सामने नहीं हुए।पर ऐसे लोगों के कारण कुछ भी हो सकता है।समय रहते ऐसे लोगों पर नियंत्रण करने में प्रशासन नाकाम हुई तो परिणाम कुछ भी हो सकता है। नेशनल एन्टी करप्शन न्यूज चैनल ब्योरो चीफ कौशाम्बी राजेश कुमार श्रीवास्तव की रिपोर्ट । निष्पक्ष और निर्भिक न्यूज चैनल पर सच छुप नही सकता और गलत छप नहीं सकता । 26/08/2020

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here