मुंबई से पिता के टीबी का इलाज करा कर गोरखपुर लौटा तिलकराम निकला कोरोना पॉजिटिव*

0
153

*मुंबई से पिता के टीबी का इलाज करा कर गोरखपुर लौटा तिलकराम निकला कोरोना पॉजिटिव*
मुम्बई से पिता का इलाज कराकर गोरखपुर लौटे रेलवे कर्मचारी तिलक राम पुत्र सीताराम की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद गोरखपुर में संक्रमित मरीजों की संख्या 3 हो गई गोरखपुर शहर शहर के सर्वोदय नगर बिछिया निवासी तिलकराम अपने बेटे शंकर और पत्नी राधा देवी के साथ के साथ अपने पिता सीताराम का टीबी का इलाज कराने मुंबई में स्थित टाटा हॉस्पिटल गए थे लॉकडाउन के समय वही फस गए 28 अप्रैल की शाम को मुंबई से एंबुलेंस से निकले और 30 अप्रैल को सुबह लगभग 3 बजे गोरखपुर जिले के बॉर्डर सहजनवा पुलिस की मुस्तैदी में जिला अस्पताल पहुंचे सुबह लगभग 4.20पर ड्रा दिवेदी और गोरखपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने इसकी जानकारी कोविड 19 के नोडल अधिकारी प्रवीण सिंह को दी
मौके पर पहुंचे कोरोना प्रभारी प्रवीण सिंह और इंस्पेक्टर एलआईयू निर्णायक भूमिका निभाते हुए परिवार समेत एंबुलेंस के चालक व परिचालक को 100 बेड टीवी हॉस्पिटल पर क्वॉरेंटाइन में भेज दिया जहां सब का नमूना लिया गया फिर तिलकराम को छोड़कर सब की रिपोर्ट नेगेटिव आई एक बार फिर दिखी गोरखपुर पुलिस की सक्रियता गोरखपुर में जांच के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए गए लगातार दो मामले में संक्रमण को सिर्फ एक व्यक्ति तक रोक देने में बहुत अहम भूमिका रही

गोरखपुर के कोविद19 प्रभारी बनाए गए प्रवीण सिंह ने बताया की गोरखपुर में तैनात कोविड19 तीसरे मरीज की रिपोर्ट आने से पहले ही मरीज और उसके साथ के लोगों का सिजरा तैयार कर लिया गया था तिलक राम को छोड़कर परिवार के अन्य सदस्यों के रिपोर्ट नेगेटिव आने पर बेटे शंकर को घर जाने दे दिया गया जिसके बाद में 14दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन कर दिया गया हालांकि पुलिस ने सर्विलांस की सहायता से शंकर से मिलने वालों को भी ट्रेस कर लिया है शंकर इस बीच अपनी दो बहनों के अलावा अपने मित्र से मिला था
कोविड़ 19 टीम ने जिले में आने वालों पर सख्त नजर रखी हुई है