रोसरा-रामप्रवेश मंडल के द्वारा समाज में लोगों को उकसाने के के बारे में उजागर

0
620

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

विगत कुछ दिनों पहले रामप्रवेश मंडल जो कि खुद को कभी वीआईपी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष बताते हैं तो कभी किसी और पार्टी के प्रदेश महासचिव खुद को बताते हैं। ग्रामीणों के द्वारा बताए गए बातों को हमने न्यूज़ चैनल पर जाहिर किया तो इन्होंने इसका साक्ष मांगा था नहीं तो मानहानि का केस दर्ज करेंगे ऐसा रामप्रवेश मंडल ने कहा, तो हम आप को साक्ष्य के तौर पर यह बता दें कि जिस लड़की के ऊपर छेड़खानी का मामला इन पर लगा है वह ग्राम महेशपुर कि रामप्रीत रावत एवं महेश रावत की लड़की है जिसमें मुदय लड़की का चाचा शंकर रावत बना है एवं गवाह मध्य विद्यालय पीठाडोरी के हेडमास्टर भुवनेश्वर शाह एवं वार्ड सदस्य 12 दिनेश चौधरी जी है। द्वितीय पक्ष रामप्रवेश कुमार मंडल, पिता तुलाई मंडल एवं नंदकिशोर शर्मा का लड़का है। उक्त दोनों लगभग 1 वर्ष जेल में रहा है ।उसका पिता तुलाइ मंडल जो वर्तमान समय में पंचायत सचिव है।वहीं जेल से छुड़वाया है। एक आल्टो कार जिसका हमने जिक्र किया था पिछले न्यूज़ में, अल्टो कार उन्होंने अपने नाम से लिया और गाड़ी का रुपया पचाने के फिराक में 6 महीने बाद उसे बेगूसराय के किन्ही व्यक्ति के हाथों बेच दिया और उस रात थाना में चोरी का केस दर्ज करा दिया कि हमारा कार चोरी हो गया है और वह f.i.r. रिपोर्ट इंश्योरेंस कंपनी में दे दिया था। जब इंश्योरेंस कंपनी जांच कराई तो गाड़ी बेगूसराय के गांव में भुसा के घर से रोसरा थाना प्रभारी महोदय के नेतृत्व में बरामद किया गया। इसमें राम कुमार मंडल द्वारा थाना पर कबूल किया कि हम इंश्योरेंस का रुपया गबन करने के लिए किए थे। सोशल मीडिया पर रामप्रवेश कुमार मंडल जिस तरह से थरथराकर अपनी बातों को रख रहे हैं उस वीडियो के माध्यम से वह रामकुमार सिन्हा उर्फ उदय की आईडी से बना हुआ वीडियो भी है। जो कि वह अपना पक्ष रख रहे हैं जो कि सरासर झूठ है और इसका पूरा सबूत मैंने आपको इस न्यूज़ के माध्यम से दे दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here