लॉकडाउन में बिहार के निजी क्लीनिक को कराया जाएगा चालू, IMA ने अधिकारियों से की बात

0
352

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

पटना: कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर पूरे देश में लॉक डाउन है।बिहार में लॉकडाउन को लेकर निजी अस्पताल और नर्सिंग होम बंद हो गए हैं।जिस वजह से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार की कोशिश है कि निजी क्लीनिक को लॉकडाउन में भी खोला जाए।इसको लेकर आज आइएमए के प्रतिनिधियों ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बातचीत की है।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि निजी क्लीनिक को चालू कराने का प्रयास किया जा रहा है।इस संबंध में आज सोमवार को सरकार ने IMA के अधिकारियों से बात की है।आईएमए ने आश्वस्त किया है कि निजी क्लीनिक चालू किए जायेंगे।वहीं प्रधान सचटिव ने यह भी कहा कि मेडिकल जांच से संबंधित कुरियर प्रभावित न हो इस पर काम किया जा रहा है।कुरयिर सेवा में लगे लोगों को पास जारी किया जाएगा।

प्रधाव सचिव संजय कुमार ने बताया कि सरकार ने निर्णय लिया है कि IGIMS में अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों  का इलाज नही होगा।इस अस्पताल को अलग रखा गया है।सिर्फ कोरोना वायरस की जांच होगी।