लॉक डाउन के बाद भी जमघट लगा कर कोराना वायरस का न्योता दे रहे हैं, भगत जी ठगने ठगाने पर उतारू है।

0
610

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट:-

साइंस के युग में आज भी लोग अंधविश्वास की तरफ जाते दिख रहे हैं। अंधविश्वास एक तसल्ली है फिर भी लोग उस अंधविश्वास की तरफ तेजी से दौड़ते हैं। साइंस इतने मेडिसिन एवं नए-नए टेक्नोलॉजी के प्रति लगे हुए हैं फिर भी लोग अंधविश्वास को लेकर ठगने एवं ठगाने पर उतारू है।
समस्तीपुर जिला के रोसड़ा थाना अंतर्गत हरिपुर पंचायत के महरौर मनाईंन गांव में प्रति दिन लोगों की भीड़ जुटाने में कोई कसर नही छोरें हैं। बता दें की मनाईन गांव के जय नारायण दास के पुत्र उगंत लाल दास के द्वारा अपने ही दरवाजे पर अंधविश्वास की दुकान वर्षो से चला रहे हैं।
लॉक डाउन के वाबजूद भी प्रतिदिन सुबह शाम 40 से 50 लोगो के साथ बैठकर अपनी भगताई का ड्रामा चालू रखते हैं।
ग्रमीणों का कहना है की उगंत लाल दास एक भगत है लोग उनके पास समस्या को लेकर आते हैं।
भगत जी द्वारा लोगो को झाड़ फूंक, भेवूत, अक्षत एवं ताबीज देकर समस्या का निदान करते हैं इसीलिए दूर दूर से लोग आकर इनसे झाड़ फूंक करवाते हैं प्रतिदिन उनके दरवाजा पर लोगों की भीड़ लगी रहती है।
लॉक डाउन के बावजूद भी कानून कायदे को ताक पर रखकर भगत जी अपनी करतब दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। जमघट लगा कर कोरोना वायरस को न्योता दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here