समस्तीपुर : लॉक डाउन के दूसरे दिन भी लोग अपनी जान जोखिम में डाल रहे है साथ ही औरों की जान भी जोखिम में डाल रहे हैं – प्रशासन परेशान ।।

0
360

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

समस्तीपुर : केंद्र सरकार पूर्ण रूप से लॉक डाउन का आदेश बिहार सरकार द्वारा लागू किए गए हैं।  साथ ही इस लॉक डाउन में सभी प्रशासनिक तंत्र भी लगे हुए हैं ।बावजूद भी लोग अपनी जान जोखिम में डालने पर उतारू हैं आज  रोसड़ा शहर में रोसड़ा पुलिस बल के द्वारा लोगों को समझाने बुझाने का काम कर रहे थे। कि घर में जाइए और अपने परिवार के साथ रहिए बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं था ।मजबूरन लाठी चार्ज करना पड़ा दूसरी ओर यातायात आज भी चालू देखें देहाती क्षेत्र में आवागमन के साथ-साथ दुकान की खुली दिख रही है ।

वही  बात करे तो लॉक डाउन के  बावजूद माइक्रो फाइनेंस कंपनी के कर्मियों द्वारा भीड़ इकट्ठा कर अपनी कंपनी की करेक्शन करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है देहाती क्षेत्र में आज भी सैटिन क्रेडिट  नेटवर्क लिमिटेड कंपनी रोसड़ा ब्रांच के कर्मी द्वारा दुधपुरा क्षेत्र में समूह को इकट्ठा कर कलेक्शन करते दिखे जब ग्रामीणों द्वारा पूछा गया कि पूरे बिहार में लॉक डाउन है तो आप कलेक्शन क्यों कर रहे हैं तो उन्होंने बताया कि कंपनी की आदेश है इसलिए कलेक्शन कर रहा हूं हालांकि सैटिन क्रेडिट नेटवर्क लिमिटेड कंपनी के शाखा रोसड़ा के कर्मी मुकेश कुमार द्वारा कलेक्शन की जा रही थी।

सरकार हरसंभव प्रयास कर रहा है कि लोग सुरक्षित रहे कोरोना वायरस से बचे हालांकि कोरोना वायरस के महामारी से पूरे  विश्व जूझ रहे हैं लेकिन भारत सरकार एवं बिहार सरकार की सूझबूझ देश के सभी आवाम को जागरूक एवं सुरक्षित रहने की सुझाव दिया जा रहा है ।घर में रहने से सुरक्षित तो रहेंगे ही साथ ही इस कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचेंगे ।दो-चार दिन आप घर में रहते हैं तो इससे आपकी एवं आपकी परिवार की सुरक्षा के साथ-साथ देश में फैलने वाली  वायरस से भी बचाव होगी ।
प्रशासनिक तंत्र आपको इसलिए घर में रहने के लिए कह रहे हैं क्योंकि यह वायरस छुआछूत जैसी है। एक दूसरे के संपर्क में आने या हाथ मिलाने से यह वायरस फैल रही है। इसलिए  आप स्वयं ना निकले और ना ही अपने परिवार के सदस्य को घर से बाहर निकलने दे।