सुपौल: अपनी जान जोखिम में डाल कर समाज को कोरोना से बचाएंगे हड़ताली शिक्षक

0
378

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

सुपौल: अपनी जान जोखिम में डाल कर समाज को कोरोना से बचाएंगे हड़ताली शिक्षक
कोरोना से समाज को बचाने के लिए हड़ताली शिक्षक चलाएंगे वार्ड स्तर पर जनजागृति अभियान ।
हड़ताली शिक्षक 31 मार्च तक धरना स्थगित कर जनजागृति कोरोना को लेकर जनजागृति अभियान चलाएंगे

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति ने कौरोना वाइरस की वजह से उत्पन्न संकट को ध्यान में रखते हुए समाज के अंतिम लोगों तक सहयोग पहुंचाने का निर्णय लिया है। बिहार के लाखों हड़ताली शिक्षक 15 मार्च से कोरोना वाइरस से बचाव हेतु वार्ड स्तर पर जाकर जनजागृति अभियान चलाकर आवश्यक संसाधन मुहैया कराकर समाज के अंतिम व्यक्ति के सुरक्षा में ढाल के तरह खड़ा रहेंगे ।बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष सह बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति अध्यक्ष मंडली सदस्य पंकज कुमार सिंह ने हड़ताल के 27वें दिन छातापुर धरना से उक्त बातें कही ।उन्होंने कहा कि जबतक सरकार हमारी मांगों पर विचार नही करती है, हड़ताल जारी रहेगा।हम हड़ताल पर रहकर कोरोना जैसे महामारी से समाज को बचाने के लिए वार्ड स्तर पर नुक्कड़ नाटक, नुक्कड़ सभा व अन्य आवश्यक संसाधनों का उपयोग करेंगे ।कहा कि शिक्षा व शिक्षक के अस्तित्व को बचाने के लिए हमारी लड़ाई सरकार से जरुर है।लेकिन इस सामाजिक संकट में हम सरकार के साथ खड़ा है ।कहा कि सरकार भी हठधर्मिता त्याग कर वार्ता करें ।