सुसुप्तावस्था में कुख्यात अपराधी को गोलियों से छलनी कर व गला रेतकर उतारा मौत के घाट, जाँच में जुटी पुलिस।

0
356

बिहार संंवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट:-

सहरसा – जिले के सलखुआ थाना के माठा गांव निवासी व कुख्यात अपराधी मो. गफ्फार (65) को बनमा ईटहरी ओपी के मुंडीचक गांव के मचान पर सुप्तावस्था में रविवार की मध्य रात्रि गोली से छलनी कर व गला रेतकर हत्या कर दी। मृतक मुंडीचक गांव निवासी भजन शर्मा घर के सामने मचान पर सोया हुआ था। घटनास्थल व मृतक के गांव की दूरी करीब दो किलोमीटर है। परिजनों के अनुसार मृतक किसी कार्य से मुंडीचक गांव गये थे। बारिश हो जाने के कारण वहीं सो गए थे। सूत्रों की माने तो सलखुआ थाना क्षेत्र के माठा गांव के रहने वाले रणवीर यादव और मो० गफ्फार के बीच पूर्व से बर्चस्व की लड़ाई चल रही थी। उसी विवाद के कारण मो० गफ्फार की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। वहीं मृतक के पुत्र ने गांव के ही रणवीर यादव और उनके साथियों पर हत्या करने का आरोप लगाया है। बताते चलें कि मृतक सलखुआ थाना क्षेत्र के माठा गांव का रहने वाला था जो कि दर्जनों मामले का वांछित अपराधी बताया जा रहा है। घटना के संबंध में मृतक के पुत्र की माने तो मृतक बनमा इटहरी प्रखंड के मुंदीचक शर्मा टोला में सोया हुआ था जिसकी भनक सलखुआ थाना क्षेत्र के माठा गांव के रहने वाले रनवीर यादव को लग गई इसी दौरान बीती रात रणवीर यादव अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर मो० गफ्फार को गोलियों से छलनी कर उसे मौत के घाट उतार दिया। घटना की जानकारी मिलते ही बनमा इटहरी पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज मृतक की आपराधिक इतिहास खगांलने में पुलिस जुट गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here