हादसे को हत्या में बदलने वाला रिश्तेदार ही निकला साजिशकर्ता

0
211

बिहार संवाददाता सिकंदर राय की रिपोर्ट

नगर थाने की पुलिस ने हाईवोल्टेज ड्रामे का पटाक्षेप करते हुए हत्या या हादसा मामले का उद्भेदन कर लिया है। 5 लाख रुपये गबन करने के लालच में हादसे को हत्या में तब्दील करने का साजिशकर्ता असल में मृतक का फुफेरा भाई ही निकला। यह खुलासा पुलिस जांच में हुआ। नगर थानाध्यक्ष अमरेंद्र झा ने पांच लाख रुपये बरामद करने का भी दावा किया है। पुलिस हत्थे चढ़ा आरोपित ने अपनी साजिश की कहानी पुलिस के समक्ष बयान किया तो पुलिस हैरान रह गयी।
दरअसल शनिवार की शाम सीएसपी संचालक शशि कुमार की सड़क हादसे में मौत हो गई थी। लेकिन मृतक शशि कुमार के चचेरे भाई ने ही पैसे के लोभ में इस हादसे को हत्या का रूप देने के लिए षड्यंत्र रच डाला। मामला लोहिया नगर थाना क्षेत्र के बाघा ओवरब्रिज की है। लेकिन पुलिस ने इस पूरे मामले का पटाक्षेप कर लिया है।
क्या है पूरा मामला एक रिपोर्ट
दरअसल शनिवार की शाम मटिहानी थाना क्षेत्र के मनीअप्पा निवासी सीएसपी संचालक शशि कुमार एसबीआई की बाघा शाखा से पांच लाख रुपये निकालकर अपने केंद्र रजौरा जा रहे थे। इसी क्रम में उनकी बाइक एक दूसरी बाइक से टकरा गई। इससे वह सड़क के दाएं तरफ गिर गया और पीछे से आ रही एक बोलेरो की चपेट में आ गया।इससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई।
लेकिन इस घटना के बाद शशि कुमार के साथ मौजूद उनके एक रिश्तेदार को शशि कुमार के चचेरे भाई ने समझा-बुझाकर गलत बयान बाजी करवाई। जिसमें शशि कुमार के साथ मौजूद अजय कुमार ने पुलिस को बताया कि बाइक सवार अपराधियों ने रुपये लूट लिए और इस लूटपाट के दौरान शशि कुमार की बाइक अनियंत्रित हो गई और वह गिर पड़े। इससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। बाद में पुलिस ने शशि कुमार के शव का पोस्टमार्टम भी करवाया।
पोस्टमार्टम के बाद लोगों ने शव के साथ ट्रैफिक चौक के समीप एनएच -31 को जाम कर दिया व जमकर बवाल काटा। लेकिन पुलिस की तत्परता से इस पूरे मामले का उद्भेदन हो गया। फिलहाल पुलिस ने मृतक शशि कुमार के चचेरे भाई आरोपी प्रभात कुमार को हिरासत में ले लिया। पुलिस के द्वारा पूरी रकम भी बरामद कर ली गई है।
स्थानीय लोग पुलिस की वाहवाही करने से नहीं चूक रहे । साथ ही साथ घटना को नया रूप देने वाले आरोपी चचेरे भाई की भर्त्सना भी स्थानीय लोग कर रहे हैं । पुलिस को गुमराह करने वाला मामला था। लेकिन पुलिस ने इस पूरे मामले को तत्परता से निपटा लिया इसके लिए स्थानीय प्रशासन धन्यवाद का पात्र हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here