हिंदू संस्कृति की रक्षा हेतु शिखा,तिलक,यग्योपवित,,मौली धारण करना नितांत अनिवार्य है – डॉ भगवान दास गायत्री परिवार

0
165

चंदौली – शनिवार एकादशी के पावन अवसर पर भोजपुर ग्राम में स्वर्गीय डॉक्टर उमाशंकर सिंह जी के निवास स्थान पर गायत्री परिवार की तरफ से एक कुंडीय यज्ञ एवं भंडारा का आयोजन किया गया। जिसका संचालन डॉ भगवान दास जी ने किया उक्त कार्यक्रम में गायत्री परिवार के सभी सदस्य एवं आस-पड़ोस के लोगो ने उपस्थित होकर सहभागिता की एवँ यज्ञ को सफल बनाया ।
डॉ भगवान दास जी ने यज्ञ की समाप्ति के पश्चात आये हुवे सभी धर्मावलंबियों को उद्बोधन दिया जिसमें उन्होंने सनातन संस्कृति को बचाये रखने के लिए बालको को शिखा रखने , हाथ मे कलावा बांधने ,मस्तक पर तिलक लगाने, यग्योपवित धारण करने के महत्वता को विस्तार पूर्वक बताया।


वरिष्ठ संवाददाता
हिमांशु सिंह
Nac news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here