।। ब्रेकिंग न्यूज।। ।। प्रयागराज मे गर्लफ्रेंड के चक्कर में पढ़े-लिखे बन गए चोर, कोई BSC है तो कोई BA, ।।

0
171

उत्तर प्रदेश:- प्रयागराज में पुलिस ने बाइक चोरों के एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया है जो अपनी प्रेमिकाओं के शौक को पूरा करने के लिए चोरी किया करते थे.

हैरानी की बात ये है कि इस गैंग के सभी चोर काफी पढ़े लिखे हैं.।

वो बाइक चुरा कर उसका फर्जी दस्तावेज बनाते थे और फिर उसे बेहद कम कीमत पर लोगों को बेच दिया करते थे ।

प्रयागराज में पुलिस ने बाइक चोर गैंग का किया पर्दाफाश

बेहद पढ़े लिखे हैं सभी चोर, प्रेमिका के लिए करते थे चोरी ।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में पुलिस ने ऐसे बाइक चोर गैंग का पर्दाफाश किया है जो अपनी गर्लफ्रेंड के महंगे शौक को पूरा करने के लिए बाइक चोरी की घटना को अंजाम देता था ।

बाइक चोरों के इस गैंग के सरगना विवेक पाल सहित 6 लोगों को पुलिस ने पकड़ा है ।

इस गैंग के पास से चोरी की 24 बाइक को भी पुलिस ने बरामद किया है. पुलिस के मुताबिक बाइक चोर गैंग पिछले 3 सालों से बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहा था.

यही नहीं पकड़े गए गैंग के पास से गाड़ी के नकली कागजात बनाने में इस्तेमाल होने वाले लैपटॉप सहित कई अन्य सामान को भी बरामद किया गया है.

पुलिस के हत्थे चढ़े गैंग के सदस्यों से पूछताछ में सामने आया कि वो गर्लफ्रेंड के शौक को पूरा करने के लिए ये चोरी किया करते थे ।

लॉकडाउन में शुरू किया बाइक चोरी का काम

जब पूरा देश कोविड-19 की महामारी से जूझ रहा था तो उस दौरान कई लोगों को अपनी नौकरी से भी हाथ धोना पड़ा. लॉकडाउन में इनकी नौकरी चली गई जिसके बाद ये लोग आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे. इसके बाद इन्होंने बाइक चोरी करने का फैसला लिया.

गैंग का सरगना विवेक पाल अपने साथी मनीष के साथ मिलकर बाइक चोरी करने लगा जिसके बाद गिरोह से चार अन्य सदस्य भी जुड़ गए ।

पुलिस के हत्थे चढ़ा ये गैंग प्रयागराज शहर और उसके आसपास के इलाकों से बाइक को चुराने का काम करता था ।

गैंग के सभी सदस्यों की एक-एक गर्लफ्रेंड थी. इस बात की जानकारी पुलिस को पूछताछ के दौरान मिली. इस गैंग का मुख्य सरगना विवेक पाल बीएससी की पढ़ाई कर चुका है जबकि उसका साथी मनीष भी ग्रेजुएट है. गिरफ्तार किए गए गिरोह के अन्य सदस्य भी पढ़े लिखे हैं.

बाइक चोरी करने वाला यह गैंग चोरी की गई बाइक को बेहद सस्ते दामों में पर बेच देता था. सत्तर से अस्सी हजार रुपये की बाइक को फर्जी दस्तावेज तैयार करके सिर्फ 25 से 30 हजार रूपए में बेचा जाता था ।

गैंग से और लोगों के जुड़े होने की संभावना: एसएसपी

प्रयागराज एसएसपी अजय कुमार के मुताबिक बाइक चोरी करने वाले इस गैंग के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी.

चोरी की घटनाओं को अंजाम देकर अर्जित की गई इनकी संपत्तियों को भी चिन्हित करके जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी ।

उन्होंने कहा, बाइक चोरी के मामले से जुड़े हुए कुछ कबाड़ियों के नाम भी सामने आएं हैं ।

जहां पर यह चोरी की बाइक को कटवा दिया करते थे. उन सभी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.

एसएसपी अजय कुमार ने गिरोह का खुलासा करने वाली सिविल लाइंस और कर्नलगंज थाने की पुलिस को 25- 25 हजार रूपए इनाम देने की भी घोषणा की है ।

 

।। प्रयागराज से  कमल शुक्ला (ब्यूरो चीफ) की रिपोर्ट NAC न्यूज़ ।।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here