AAP-कांग्रेस गठबंधन में फंसा पेंच, शरद पवार-संजय सिंह मुलाकात भी नहीं खिला सकी गुल

0
300

नई दिल्ली, Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर पहले चरण के लिए होने वाले मतदान का नामांकन तक शुरू हो गया है, लेकिन दिल्ली के साथ-साथ बिहार में भी कांग्रेस पार्टी का साथी दलों से गठबंधन नहीं बन पाया है। इस बीच दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी (AAP) के साथ कांग्रेस के गठबंधन को लेकर अब राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है।

एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता देरी हो जाने की बात कह कर कांग्रेस से गठबंधन की बात से मना कर रहे हैं, वहीं इसके ही कुछ नेता अब भी प्रयास में लगे हुए हैं। इसी कड़ी में AAP से राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने मंगलवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री व कद्दावर नेता शरद पवार से मुलाकात की। बताया जा रहा है कि संजय सिंह ने पवार से गठबंधन के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से बात करने का अनु्रोध किया है। यह अलग बात है कि इस बारे में संजय सिंह ने मीडिये के सवालों का कोई जवाब नहीं दिया और न ही AAP का कोई नेता जवाब देने को तैयार है।

वहीं, संजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी कभी कुछ बोलती है और कभी कुछ। ऐसे में हमने अपने सातों प्रत्याशी उतार दिए हैं और हम पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे। उन्होंने कहा कि आज देश में हालात ठीक नहीं हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कहते हैं कि यह चुनाव जिता दो, 50 साल तक देश में चुनाव नहीं होंगे। वहीं भाजपा के एक अन्य सांसद साक्षी महाराज कहते हैं 2019 का चुनाव मोदी को जिता दो। इसके बाद कोई चुनाव नहीं होगा। आखिर देश में यह सब हो क्या रहा है। इन भाजपा वालों को जनता के वोट की ताकत का भी अहसास नहीं है। संजय सिंह ने कहा कि इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए हमारा प्रसास था कि सभी विपक्षी दल एक होकर चुनाव लड़ें और भाजपा को हराएं। मगर कांग्रेस की स्थिति साफ नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here